प्रदेश के युवाओं को रोजगार न देकर बाहरी युवाओं को सरकार की शह पर उद्योगपति दे रहे है प्राथमिकता : दुष्यंत चौटाला

रोहतक : जन नायक जनता पार्टी नेता एवं पूर्व सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि उद्योगपति सरकार से सस्ती कीमतों पर जमीन लेकर उद्योग स्थापित कर रहे है, वहीं सरकार की शह पर बाहरी युवाओं को रोजगार में प्राथमिकता दे रहे है। उन्होंने चेताया कि अगर 75 प्रतिशत हरियाणा के युवाओं को उद्योगपतियों ने रोजगार नहीं दिया तो वे उद्योग नहीं चलने देगे। पहले वे प्रदेश के मंत्रियों के आवास का घेराव कर ज्ञापन सौंपेगे, अगर फिर भी युवाओं को रोजगार नहीं उपलब्ध कराया गया तो उद्योग केन्द्रों पर ताले जड़ दिए जाएंगे। 

साथ ही उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में प्रदेश से दस सांसद भाजपा के चुन कर गए है और एक महीने से ज्यादा संसद का कार्यकाल चल रहा है, लेकिन अभी तक एक भी सांसद ने प्रदेश के हित के लिए कोई आवाज नहीं उठाई है, इससे ज्यादा शर्म की क्या बात होगी। पूर्व सांसद दुष्यंत चौटाला रोहतक पहुंचे और सुरक्षित हरियाणा-विकसित हरियाणा के तहत वाहन चालाकों को प्राथमिक चिकित्सका किट वितरित कर अभियान का शुभारम्भ किया। बाद में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने भाजपा सरकार पर निशाना साधा और कहा कि सीएजी की रिपोर्ट ने यह खुलासा कर दिया है कि देश मे हरियाणा की सरकार ने सबसे कम स्वास्थ्य सेवाओं के लिए बजट जारी कर रही है, जोकि गलत है, इसे दुरूस्त किया जाना चाहिए। 

ताकि आमजन को स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ मिल सके। भिवानी से जजपा की प्रत्याशी श्वाती यादव द्वारा भाजपा में शामिल होने पर पूर्व सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि चौधरी देवीलाल ने एक नर्सरी लगाई थी और यहां से बहुत राजनीतिक लोग सीख कर आगे बढे है, जो अपनी ईच्छा अनुसार गए है वह उनका निर्णय होगा। उन्होंने कहा कि हमारा साथी भाजपा में चला गया तो भाजपा का भी तो जजपा में शामिल हुआ है। चुनाव आता है तो आशा रखते है और उसी के अनुसार निर्णय लिया जाता है। साथ ही उन्होंने कहा कि भाजपा में विपक्ष के नेता तो जरूर जा रहे है, लेकिन भाजपा कार्यकत्र्ता पार्टी छोड़ रहे है और जिस संगठन के कार्यकत्र्ताओं की अनदेखी होती है, उसका पतन शुरू हो जाता है और भाजपा इसी दिशा में आगे बढ़ रही है और विधानसभा चुनाव में भाजपा को आईना दिख भी जाएगा। 

उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता ने कांग्रेस व इनेलो के हालात देख लिए है और भाजपा को हराने के लिए जजपा ही एक मात्र विकल्प है। साथ ही उन्होंने कहा कि आज पढे लिखे युवा रोजगार के लिए दर दर की ठोकरे खाने पर मजबूर है, लेकिन प्रदेश सरकार अपने चहेतों को लाभ पहुंचाने में जुटी है। इसका खामियाजा सरकार को विधानसभा चुनाव में भुगतना पडेगा। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष बलवान सुहाग, प्रदीप मलिक एडवोकेट, सुमित राणा, नीरज सांपला प्रमुख रूप से मौजूद रहे। 
Download our app