+

छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में सुरक्षा बलों ने नक्सलियों का शिविर किया नष्ट

छत्तीसगढ़ के दक्षिणी क्षेत्र में पिछले एक महीनें के दौरान पुलिस के तीन जवानों समेत 10 लोगों की हत्या
छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में सुरक्षा बलों ने नक्सलियों का शिविर किया नष्ट
छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले में सुरक्षा बलों ने नक्सलियों का एक शिविर नष्ट कर दिया है। वहीं बारूदी सुरंग में विस्फोट होने से एक जवान को हल्की चोटें भी आई हैं। इस सम्बन्ध में बस्तर क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक सुंदरराज पी ने बुधवार को बताया कि बीजापुर जिले के गंगालुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत मारीवाड़ा गोंगला गांव के नज़दीक स्थित सुरक्षा बलों ने नक्सलियों का एक शिविर नष्ट कर दिया।

सुंदरराज ने आगे कहा कि गंगालुर थाना क्षेत्र में नक्सली गतिविधि की सूचना मिलने के बाद क्षेत्र में डीआरजी और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के संयुक्त दल को पेट्रोलिंग पर रवाना किया गया था। दल जब मारीवाड़ा गोंगला गांव के नज़दीक पहुंचा तब नक्सली वहां से फरार हो गए। इस मामले में पुलिस अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा बलों ने नक्सलियों के शिविर से माओवादियों की वर्दी, बारूदी सुरंग, टार्च और माओवादी साहित्य समेत अन्य सामान बरामद किये है।


उन्होंने आगे कहा कि जब शिविर से बारूदी सुरंग बरामद किया जा रहा था उसी दौरान एक बम में विस्फोट हो गया और इसी घटना में डीआरजी के एक जवान को हल्की चोटें आई हैं।

एक अन्य पुलिस अधिकारी ने जानकारी साझा करते हुए कहा कि गंगालुर क्षेत्र में नक्सलियों द्वारा चार ग्रामीणों की हत्या किये जाने की जानकारी उन्हें हासिल हुई है और इसी सूचना की पुष्टि के लिए पुलिस दल को रवाना किया गया है।

नक्सलियों द्वारा इन क्षेत्रों में फैलाई जा रही अशांति इतनी अधिक बढ़ चुकी है कि छत्तीसगढ़ के दक्षिणी क्षेत्र में पिछले एक महीनें के दौरान पुलिस के तीन जवानों समेत 10 लोगों की हत्या की जा चुकी है। इनमें छह ग्रामीण और एक वन अधिकारी शामिल हैं।

वैसे तो सरकार द्वारा नक्सलियों के आत्मसमर्पण के लिए बड़े स्तर पर प्रयास किये जा रहे है लेकिन ये रफ़्तार अभी धीमी है. इसके बावजूद आये दिन नक्सलियों के आत्मसमर्पण की ख़बरें सामने आती रहती है, अगस्त महीने में ही छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा जिले से जुड़ी एक खबर सामने आई थी जिसमें 16 नक्सलियों ने आत्मसमर्पण कर दिया था. 

facebook twitter instagram