+

उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती ने की ‘कश्मीर टाइम्स’ के कार्यालय को बंद कराने की निंदा

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती ने श्रीनगर स्थित अंग्रेजी अखबार ‘कश्मीर टाइम्स’ के कार्यालय को बंद कराने की कड़ी निंदा की है।
उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती ने की ‘कश्मीर टाइम्स’ के कार्यालय को बंद कराने की निंदा
जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती ने श्रीनगर स्थित अंग्रेजी अखबार ‘कश्मीर टाइम्स’ के कार्यालय को बंद कराने की कड़ी निंदा की है। संपदा विभाग ने 19 अक्टूबर को श्रीनगर में ‘कश्मीर टाइम्स’ का कार्यालय बंद करा दिया है। 
विभाग ने हाल ही में स्थानीय समाचार एजेंसी कश्मीर न्यूज सर्विस (केएनएस) के कार्यालय को भी बंद करा दिया था जिसकी मीडिया संगठनों और विभिन्न राजनीतिक दलों ने निंदा की थी। नेशनल कांफ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने ‘कश्मीर टाइम्स’ के कार्यालय को बंद करने की कड़ी निंदा करते हुए ट्वीट किया कि यहीं कारण हैं कि क्यों कुछ स्थानीय अखबारों ने सरकारी मुखपत्र बनने और केवल सरकारी प्रेस विज्ञप्ति-पत्र प्रिंट करने का फैसला कर लिया है।


पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट कर कहा, ‘‘अनुराधा (कश्मीर टाइम्स की कार्यकारी संपादक अनुराधा भसीन जामवाल) जम्मू-कश्मीर के कुछ स्थानीय अखबारों के संपादकों में से एक है जो राज्य में सरकार के गैर कानूनी और विघटनकारी कार्यों के खिलाफ खड़ी हुई। श्रीनगर में उनके कार्यालय को बंद कराना असहमत होने की हिम्मत रखने वालों के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रतिशोध का हिस्सा है।’’

facebook twitter instagram