+

जम्मू-कश्मीर : बारामूला से लश्कर का हाइब्रिड आतंकी गिरफ्तार, हथियार और गोला-बारूद जब्त

पुलिस और सेना 29 आरआर के जॉइंट टीम ने बारामूला के क्रीरी इलाके में लश्कर के हाइब्रिड आतंकवादी को हथियारों और गोला-बारूद के साथ धार दबोचा।
जम्मू-कश्मीर : बारामूला से लश्कर का हाइब्रिड आतंकी गिरफ्तार, हथियार और गोला-बारूद जब्त
जम्मू-कश्मीर (Jammu-kashmir) के बारामूला (Baramulla) जिले से लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) से जुड़े हाइब्रिड आतंकवादी को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस और सेना 29 आरआर के जॉइंट टीम ने बारामूला के क्रीरी इलाके में लश्कर के हाइब्रिड आतंकवादी को हथियारों और गोला-बारूद के साथ धार दबोचा।
पुलिस प्रवक्ता के मुताबिक आतंकवादी की पहचान तिलगाम पाईन निवासी मोहम्मद इकबाल भट के रूप में की गई है। सुरक्षाबल और पुलिस की संयुक्त टीम ने उसे बारामूला के क्रीरी इलाके में एक चौकी पर गिरफ्तार किया। उसके पास से एक पिस्तौल, मैगजीन और कुछ गोला-बारूद बरामद किया गया है। उन्होंने बताया कि भट आतंकवादी गतिविधियों के लिए रसद सहायता प्रदान करने में सक्रिय रूप से शामिल रहा है और पाकिस्तानी आतंकवादी सैफुल्ला और अबू जर्र के संपर्क में था। 
कौन होते हैं हाइब्रिड आतंकी?
घाटी में आतंकी हमलों का ट्रेंड बदल गया है और इस नए ट्रेंड में हाईब्रिड आतंकी मैदान में है। वारदात को अंजाम देने से पहले सॉफ्ट टारगेट की पूरी रेकी की जाती है। इस साजिश को आतंकियों के आका ओवर ग्राउंड वर्कर के जरिए अंजाम देते हैं। इसके बाद हाईब्रिड आतंकियों को हत्या करने की जिम्मेदारी दी जाती है। 
इसके बाद हाइब्रिड आतंकी भी कई दिनों तक सॉफ्ट टारगेट की गतिविधियों की रेकी करते हैं और उसके बारे में पूरा ब्योरा जुटा लेते हैं। उन्हें यह अच्छी तरह पता होता है कि कब और किस वक्त हमला करना मुफीद होगा। हाइब्रिड आतंकियों को टारगेट किलिंग के लिए बड़े हथियारों की जरूरत नहीं होती है। छोटे हथियारों व छोटे ग्रुप में आतंकी निहत्थे लोगों को निशाना बनाते हैं।

facebook twitter instagram