+

उत्तर कोरिया की पहल- बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया

अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस के दक्षिण कोरिया से स्वदेश रवाना होने के कुछ घंटों बाद उत्तर कोरिया ने बृहस्पतिवार को छोटी दूरी की दो बैलिस्टिक मिसाइल का समुद्र में परीक्षण किया।
उत्तर कोरिया की पहल-  बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया
अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस के दक्षिण कोरिया से स्वदेश रवाना होने के कुछ घंटों बाद उत्तर कोरिया ने बृहस्पतिवार को छोटी दूरी की दो बैलिस्टिक मिसाइल का समुद्र में परीक्षण किया। हैरिस ने दक्षिण कोरिया की अपनी यात्रा के दौरान उत्तर कोरिया की ओर से बढ़ते खतरे के बीच अपने एशियाई सहयोगियों की सुरक्षा के लिए अमेरिकी प्रतिबद्धता पर जोर दिया।
हाल में उत्तर कोरिया द्वारा किया गया यह तीसरा मिसाइल परीक्षण है। उत्तर कोरिया ने हैरिस के दक्षिण कोरिया की यात्रा पर पहुंचने से एक दिन पहले मिसाइल परीक्षण किया था और एक परीक्षण रविवार को किया था। दक्षिण कोरिया के ‘ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टॉफ’ ने कहा कि उत्तर कोरियाई मिसाइलों को राजधानी प्योंगयांग के उत्तर में सुनचोन शहर के पास एक क्षेत्र से दागा गया। हालांकि इस संबंध में विस्तृत विवरण जारी नहीं किया गया है।
हैरिस अपनी एशिया यात्रा के दौरान कोरियाई प्रायद्वीप को विभाजित करने वाले असैन्यीकृत क्षेत्र (डीएमजेड) पहुंची और उन्होंने उत्तर कोरिया के बढ़ते शत्रुतापूर्ण माहौल में अपने एशियाई सहयोगियों की सुरक्षा के लिए अमेरिकी प्रतिबद्धता पर जोर दिया।
बैलिस्टिक मिसाइल क्या होती है? - Open Naukri
डीएमजेड जाने से पहले हैरिस ने दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति यून सुक योल से उनके सियोल स्थित कार्यालय में मुलाकात की और दोनों देशों के बीच संबंधों की सराहना की। इस बात को लेकर भी चिंता है कि उत्तर कोरिया एक परमाणु परीक्षण कर सकता है। डीएमजेड में, दक्षिण कोरियाई अधिकारी ने हैरिस को अपने देश की तरफ स्थित सैन्य प्रतिष्ठानों के बारे में बताया। फिर एक अमेरिकी अधिकारी ने सैन्य सीमांकन रेखा के पास मौजूद कुछ रक्षा प्रतिष्ठानों के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि अमेरिकी सैनिक इस रास्ते के आसपास नियमित रूप से गश्त करते हैं।
इसके बाद हैरिस ने सीमा के पास नीले रंग की इमारतों का दौरा किया, जहां एक अमेरिकी अधिकारी ने बताया कि कैसे इन इमारतों का उपयोग अभी भी उत्तर कोरिया के साथ वार्ता करने के लिए किया जाता है। इस दौरान हैरिस ने उत्तर कोरियाई मिसाइल परीक्षणों को उकसावा करार दिया, जिसका मकसद “क्षेत्र को अस्थिर करना” है।
उन्होंने कहा कि अमेरिका और दक्षिण कोरिया उत्तर के “पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण” के लिए प्रतिबद्ध हैं। हैरिस ने कहा, “मैं इससे ज्यादा कुछ नहीं कह सकती कि कोरिया गणराज्य की रक्षा के लिए अमेरिका की प्रतिबद्धता बिल्कुल स्पष्ट है।”
एपी





facebook twitter instagram