+

पायलट खेमे का बयान -भाजपा में शामिल नहीं होंगे, हमारी लड़ाई राज्य सरकार के नेतृत्व परिवर्तन की

राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के समर्थक विधायक मुकेश भाकर ने सोमवार को कहा कि अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ बगावत करने वाले कांग्रेस विधायक भाजपा में शामिल नहीं होंगे
पायलट खेमे का बयान -भाजपा में शामिल नहीं होंगे, हमारी लड़ाई राज्य सरकार के नेतृत्व परिवर्तन की
राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के समर्थक विधायक मुकेश भाकर ने सोमवार को कहा कि अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ बगावत करने वाले कांग्रेस विधायक भाजपा में शामिल नहीं होंगे और उनकी लड़ाई सिर्फ प्रदेश सरकार में नेतृत्व परिवर्तन कर पार्टी को बचाने की है। 
नागौर जिले की लाडनूं विधानसभा क्षेत्र से विधायक भाकर ने कहा कि राज्य में कांग्रेस को बचाने के लिए आलाकमान को सरकार के नेतृत्व में बदलाव करना चाहिए। पिछले दिनों मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की खुलकर आलोचना करने के बाद भाकर को राजस्थान युवा कांग्रेस के अध्यक्ष पद से हटा दिया गया था। 
उन्होंने कहा, ‘‘कोई भी विधायक भाजपा शासित हरियाणा में नहीं है। हम सभी दिल्ली में हैं।’’ कांग्रेस के बागी विधायक ने यह स्पष्ट नहीं किया कि वह और उनके अन्य 17 साथी विधायक दिल्ली में किस जगह हैं। 
सचिन पायलट पर कांग्रेस विधायक गिरिराज सिंह मलिंगा द्वारा लगाए गए पैसे की पेशकश के आरोप को गलत करार देते हुए भाकर ने दावा किया कि पूर्व उप मुख्यमंत्री के समर्थक विधायकों को अशोक गहलोत के साथ जाने के लिए पैसे और मंत्री पद का प्रलोभन दिया गया। 
उन्होंने यह दावा भी किया कि उन्हें और उनके साथी विधायकों को अब भी गहलोत के खेमे से प्रलोभन दिया जा रहा है। भाजपा में जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि कोई भी बागी विधायक भाजपा में नहीं जाने वाला है। 
उन्होंने कहा कि कांग्रेस के बागी विधायकों ने पार्टी के राजस्थान प्रभारी अविनाश पांडे और कुछ अन्य वरिष्ठ नेताओं से राजस्थान में पायलट की उपेक्षा किए जाने की शिकायत की थी, लेकिन उनकी बातों को अनसुना कर दिया गया। 
facebook twitter