+

तूफानी शतक के बावजूद मिली हार से संजू सैमसन का छलका दर्द, निराश हुए खिलाड़ी ने टीम की हार के बाद दी प्रतिक्रिया

संजू सैमसन के शानदार शतक के बाद राजस्थान रॉयल्स को आईपीएल सीजन के चौथे मुकाबले में मुंबई के वनखेड़े में पंजाब किंग्स से चार रनों से हार का सामना करना पड़ा।
तूफानी शतक के बावजूद मिली हार से संजू सैमसन का छलका दर्द, निराश हुए खिलाड़ी ने टीम की हार के बाद दी प्रतिक्रिया
संजू सैमसन के शानदार शतक के बाद राजस्थान रॉयल्स को आईपीएल सीजन के चौथे मुकाबले में मुंबई के वनखेड़े में पंजाब किंग्स से चार रनों से हार का सामना करना पड़ा। इस दौरान राजस्थान के कप्तान संजू सैमसन ने 119 रन की शानदार पारी खेली।


सैमसन ने कप्तानी के अपने पहले मैच में कप्तान के रूप में सर्वाधिक स्कोर का रिकॉर्ड बनाया लेकिन टीम को जीत नहीं दिला पाए। सैमसन ने मात्र 63 गेंदों पर 119 रन में 12 चौके और सात छक्के लगाए। राजस्थान ने सैमसन की शतकीय पारी के दम पर इस बड़ लक्ष्य का पीछा किया लेकिन सैमसन आखिरी गेंद पर छक्का उड़ने की कोशिश में दीपक हुड्डा के हाथों बॉउंड्री पर लपके गए और राजस्थान हार गयी ।


इस दौरान राहुल 50 गेंदों में सात चौकों और पांच छक्कों की मदद से 91 रन बनाकर आउट हुए। चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने भेजे गए दीपक हुड्डा ने मात्र 28 गेंदों पर 64 रन में चार चौके और छह छक्के लगाए। तीसरे नंबर पर उतरे क्रिस गेल ने 28 गेंदों पर 40 रन में चार चौके और दो छक्के लगाए। ओपनर मयंक अग्रवाल ने नौ गेंदों पर 14 रन में दो चौके लगाए।


मैच हारने के बाद क्या बोले संजू...

राजस्थान रॉयल्स को पंजाब से मिली हार के बाद अब टीम के कप्तान संजू सैमसन ने अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि वो इससे बेहतर कुछ नहीं कर सकते थे। सैमसन ने कहा,अपने अहसास को बयां करने के लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं। अपनी टीम को जीत दिलाना पसंद करता। मुझे नहीं लगता कि मैं इससे बेहतर कुछ कर सकता था। 


सैमसन को टीम को जीत दिलाने के लिए अंतिम गेंद पर छह रनों की दरकार थी, लेकिन वह बाउंड्री के समीप दीपक हुड्डा को कैच दे बैठे। उन्होंने कहा, ‘मुझे लगा था कि मैंने छक्के के लिए गेंद को अच्छी तरह मारा है, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। इस दौरान दोनों ही टीमों ने इस मुकाबले में काफी कैच छोड़े, जिस पर सैमसन ने कहा, कई कैच छूट जाते हैं और अच्छे कैच पकड़े भी जाते हैं। यह खेल का हिस्सा है।


पंजाब किंग्स की टीम की तरफ से अंतिम ओवर अर्शदीप सिंह के हाथों सौंपा गया था। ऐसे में ओवर की पहली तीन गेेंदों पर केवल दो रन बने,मगर चौथी बॉल पर सैमरन ने छक्का जमाया। वहीं पांचवीं गेंद खाली गई,जबकि आखिरी गेंद पर सैमसन ने बल्ला उठाकर सिक्स लगाने की कोशिश तो करी लेकिन उन्होंने फिल्डर के हाथों बाउंड्री पर कैच थमा दिया। 




 
facebook twitter instagram