+

बंगाल में स्थिति खतरनाक, लोकतांत्रिक कामकाज प्रभावित हुआ और कानून का डर खत्म : जगदीप धनखड़

जगदीप धनखड़ ने भाजपा नेता की हत्या के बाद राज्य की “खतरनाक स्थिति” को लेकर चिंता जताई और कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को उन पहलुओं का संज्ञान लेना चाहिए जिनके कारण लोकतांत्रिक कामकाज प्रभावित हुआ है और कानून का डर कम हुआ है।
बंगाल में स्थिति खतरनाक, लोकतांत्रिक कामकाज प्रभावित हुआ और कानून का डर खत्म : जगदीप धनखड़
पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने 24 परगना जिले में एक भाजपा नेता की हत्या के बाद राज्य की “खतरनाक स्थिति” को लेकर चिंता जताई और कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को उन पहलुओं का संज्ञान लेना चाहिए जिनके कारण “लोकतांत्रिक कामकाज प्रभावित हुआ है और कानून का डर कम हुआ है।”
उन्होंने कहा कि राजनीतिक हिंसा और हत्याएं बंद होनी चाहिए। इससे पहले, राज्यपाल द्वारा तलब किए जाने के बावजूद गृह सचिव और पुलिस महानिदेशक धनखड़ से मिलने नहीं पहुंचे। इसको लेकर राज्यपाल ने राज्य प्रशासन की आलोचना की। हालांकि, मुख्य सचिव अलापन बंद्योपाध्याय ने धनखड़ से मुलाकात की।
धनखड़ ने ट्वीट किया, “वर्तमान खतरनाक स्थिति के बारे में नए मुख्य सचिव को अपनी चिंता से अवगत कराया। मुझे विश्वास है कि मुख्यमंत्री इन महत्वपूर्ण पहलुओं पर ध्यान देंगी जिनके कारण लोकतांत्रिक कामकाज प्रभावित हुआ और कानून का डर कम हुआ है। उन्होंने कहा, राजनीतिक हिंसा और हत्याएं बंद होनी चाहिए। राज्यपाल ने यह भी कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री से बात करने के लिए संदेश भेजा है जिसका उन्हें कोई जवाब नहीं मिला है।

facebook twitter instagram