+

NEET और JEE परीक्षाएं टालने के लिए NSUI ने छात्रों के साथ मिलकर की भूख हड़ताल

NEET और JEE की परीक्षाएं मामले में NSUI के सदस्यों ने 4,200 से अधिक छात्रों के साथ मिलकर अपने-अपने घर पर एक दिन की भूख हड़ताल की है।
NEET और JEE परीक्षाएं टालने के लिए NSUI ने छात्रों के साथ मिलकर की भूख हड़ताल
कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए NEET और JEE की परीक्षाएं टालने की मांग की जा रही है। रविवार को वामपंथी छात्र संगठन ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन ( NSUI) के सदस्यों ने 4,200 से अधिक छात्रों के साथ मिलकर अपने-अपने घर पर एक दिन की भूख हड़ताल की है। 
उनकी मांग है कि सीबीएसई की 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं को रद्द किया जाए। इसके साथ ही यूजीसी-नेट, नीट और जेईई जैसी प्रवेश परीक्षाओं को स्थगित किया जाए। इसके साथ ही ट्विटर पर सत्याग्रह एगेंस्ट एक्जाम इन कोविड हैशटैग (#SATYAGRAH_AgainstExamsInCovid) ट्रेंड कर रहा है। इस हैशटैग का सहारा लेकर कई छात्र सरकार तक अपनी मांग पहुंचाने की कोशिश कर रहे है। 
NEET , JEE परीक्षा के मामले ने लिया राजनीतिक मोड़ 
कोरोना काल में दोनों परीक्षाएं आयोजित करने पर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के बाद अब कांग्रेस के नेता राहुल गांधी ने भी कोरोना काल में परीक्षा कराने पर सवाल उठाए हैं। उनके अलावा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी अपील की है कि सरकार को जेईई मेन और नीट परीक्षा के स्टूडेंट्स के मन की बात को सुनना चाहिए। 
इस मामले में प्रियंका गांधी ने भी छात्रों का समर्थन करते हुए परीक्षा टालने की मांग की थी। उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा कि NEET, JEE परीक्षा के बारे में छात्रों की बात सुनी जानी चाहिए और सरकार को एक सार्थक हल निकालना चाहिए।
facebook twitter