+

TOP 5 NEWS 04 DECEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें

आज यानी शुक्रवार को किसान आंदोलन का नौवां दिन हो जाएगा। लोगों को किसान आंदोलन के कारण सिंघु, लामपुर, औचंदी, चिल्ला और अन्य बॉर्डर के बंद होने की जानकारी दी।
TOP 5 NEWS 04 DECEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें
1 - सिंघु-टिकरी से लेकर गाजीपुर बॉर्डर बंद, दिल्ली-NCR में इन रास्तों पर जाने से बचें

आज यानी शुक्रवार को किसान आंदोलन का नौवां दिन हो जाएगा। बता दें कि दिल्ली यातायात पुलिस ने शुक्रवार सुबह अनेक ट्वीट करके लोगों को किसान आंदोलन के कारण सिंघु, लामपुर, औचंदी, चिल्ला और अन्य बॉर्डर के बंद होने की जानकारी दी। कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर के नेतृत्व में तीन केंद्रीय मंत्रियों के साथ आंदोलनकारी किसानों के प्रतिनिधिमंडल की गुरुवार को हुई बैठक भी बेनतीजा रही। लगभग आठ घंटे चली इस बैठक में किसान नेता नए कृषि कानूनों को रद्द करने की अपनी मांग पर अड़े रहे। सरकार ने बातचीत के लिये पहुंचे विभिन्न किसान संगठनों के 40 किसान नेताओं के समूह को आश्वासन दिया कि उनकी सभी वैध चिंताओं पर गौर किया जाएगा और उनपर खुले दिमाग से विचार किया जायेगा। लेकिन दूसरे पक्ष ने कानूनों में कई खामियों और विसंगतियों को गिनाते हुये कहा कि इन कानूनों को सितंबर में जल्दबाजी में पारित किया गया। बताया जा रहा है कि शनिवार को एक बार फिर से सरकार और किसानों के बीच बातचीत होगी। किसानों के लगातार जारी प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने अपने सुरक्षा इंतजाम बढ़ा दिए हैं और शहर में प्रवेश और निकास के लिए वैकल्पिक मार्गों से आवागमन करने का सुझाव दिया है।

2 - नगर निगम चुनाव : हैदराबाद नगर निगम चुनाव के रिजल्ट आज !

हैदराबाद में संपन्न हुए नगर निगम चुनाव की मतगणना आज शुक्रवार को होगी। इसको लेकर व्यवस्थाएं पूरी कर ली गई हैं और मतगणना प्रक्रिया सुबह आठ बजे से शुरू कर दी जाएगी। बता दें कि देश के किसी भी नगर निगम चुनाव को बीजेपी ने पहली बार इतनी आक्रमकता से लड़ा। आधिकारिक सूत्रों ने गुरुवार को बताया कि मतगणना केंद्र 30 स्थानों पर बनाए गए हैं और मतगणना में लगे कर्मियों की कुल संख्या 8,152 है। हर मतगणना प्रक्रिया की वीडियो रिकॉर्डिंग की जाएगी इसके लिए हर मतगणना टेबल पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। चूंकि मतदान के लिए मत पत्रों का उपयोग हुआ था इसलिए परिणाम देर शाम या रात तक ही आने की उम्मीद है। हैदराबाद में नगर निगम चुनाव को लेकर पार्टियों ने अपनी पूरी ताकत झोंकी है। इस दौरान उच्च स्तर का चुनाव प्रचार दिखाई दिया। हालांकि एक दिसंबर को मतदान के दिन मतदाताओं का उत्साह फीका रहा। हैदराबाद नगर निगम की कुल 150 निकाय सीटों के लिए 1 दिसंबर को मतदान हुए और कल यानी चार दिसंबर को नतीजे आएंगे।

3 - CORONA WARRIOR : भोपाल में कोरोना योद्धाओं पर बरसी पुलिस की लाठियां, कर रहे थे CM शिवराज से मिलने की मांग

कोरोना के भयंकर समय के दौरान कोरोना से संक्रमित लोगों की पहचान करने और उनका उपचार करने का बीड़ा अपने कंधों पर कोरोना योद्धाओं ने अर्थात स्वास्थ्य कर्मियों ने उठाया है। आज उन्हीं कोरोना योद्धाओं अर्थात स्वास्थ्य कर्मियों पर लाठियाँ बरसाई जा रही है। बता दें कि स्वास्थ्य कर्मियों के विरोध को कुचलने के लिए मध्यप्रदेश सरकार के तहत आने वाली मध्यप्रदेश पुलिस ने उन पर जमकर लाठियां बरसाई। दरअसल जब कोरोना वायरस ने पैर पसारना शुरू किया था और विकराल रूप ले रहा था। तब सरकार ने कई स्वास्थ्यकर्मीयों को संविदा पर भर्ती किया था। जिनकी संख्या 6000 से भी ज्यादा थी। इनका कार्यकाल पहले तीन 3 माह ही था जिसे अगले 9 माह तक बढ़ाया गया। अब इन स्वास्थ्य कर्मियों को निकाला जा रहा है, जिसका विरोध यह धरना देकर कर रहे थे। स्वास्थ्य कर्मियों की यह मांग है कि इन्हें संविदा से स्थाई किया जाए। 3 दिसंबर को भोपाल के नीलम पार्क में धरना प्रदर्शन करते हुए उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मिलने की मांग की। प्रदर्शन पर काबू पाने के लिए पुलिस ने लाठियां बजाई।  

4 - EARTHQUAKE : भूकंप के झटके से हिली ओडिशा और उत्तराखंड की धरती

शुक्रवार तड़के भारत के दो राज्यों में भूकंप के झटके महसूस किए गए। पहले ओडिशा में भूकंप आया उसके ठीक बाद उत्तराखंड में भी लोगों ने भूकंप के झटके महसूस किए। एक ओर जहां ओडिशा के मयूरभांज जिले में शुक्रवार तड़के भूकंप आया, वहीं उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में झटके महसूस किए गए।  ओडिशा के मयूरभांज जिले में शुक्रवार तड़के 2:13 मिनट पर यह भूकंप आया। नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के मुताबिक, रिक्टर स्केल पर इस भूकंप की तीव्रता 3.9 मापी गई। वहीं, उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में आज तड़के 3:10 मिनट पर भूकंप आया। नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के मुताबिक, रिक्टर स्केल पर इस भूकंप की तीव्रता 2.6 मापी गई। तीव्रता कम होने की वजह से अब तक किसी नुकसान की खबर नहीं है। 

5 - 2021 की पहली तिमाही तक उपलब्ध होंगे Moderna के 10 करोड़ टीके

दुनियाभर में कोरोना वैक्सीन पर काम चल रहा है। विशेषज्ञों ने कहा है कि जब तक कोविड-19 की वैक्सीन बनकर तैयार नहीं हो जाती है तब तक इस वायरस से पूरी तरह छुटकारा नहीं पाया जा सकता है। इसी बीच अमेरिका में बन रही मॉर्डना की वैक्सीन को लेकर कहा गया है कि उसे 2021 की पहली तिमाही में वैश्विक स्तर पर उपलब्ध अपने प्रयोगात्मक कोविड-19 वैक्सीन की 10 करोड़ से 12.5 करोड़ खुराक के बीच होने की उम्मीद है। समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने ये जानकारी दी है। अभी हाल ही में बताया गया था कि मॉर्डना की वैक्सीन में 94 प्रतिशत एफिशियेंसी है। जो शरीर में एंटीबॉडी का उत्पादन के लिए प्रेरित करती है और वो तीन महीने तक चलती है। fizer Inc और Moderna के कोविड -19 टीके आने वाले दिनों में सबसे अधिक संभावित आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण प्राप्त करेंगे। बता दें कि मॉडर्ना की ट्रायल सफलताओं ने उम्मीद मिली है कि जल्द ही एक  कोविड -19 वैक्सीन आने वाली है। 
facebook twitter instagram