+

TOP 5 NEWS 26 NOVEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें

आज किसानों का विशाल प्रदर्शन होने वाला है। ये किसान केंद्र द्वारा हाल में पास किए गए कृषि कानूनों का व्यापक विरोध कर रहे हैं।
TOP 5 NEWS 26 NOVEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें
1 - कृषि कानून 2020 : किसानों का 'दिल्ली चलो' मार्च आज, हरियाणा बॉर्डर पर भारी संख्या में सुरक्षाबलों की तैनाती

आज किसानों का विशाल प्रदर्शन होने वाला है। ये किसान केंद्र द्वारा हाल में पास किए गए कृषि कानूनों का व्यापक विरोध कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले हजारों किसान आज दिल्ली में प्रदर्शन करेंगे। गौरतलब है कि विभिन्न किसान संगठनों ने जंतर मंतर पर धरना देने की घोषणा की थी। बता दें कि दिल्ली पुलिस ने किसान आंदोलन को देखते हुए हरियाणा की सीमा पर सुरक्षा कड़ी कर दी है। इसके साथ ही आंदोलनकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की बात कही है। वहीं, किसान आंदोलन के चलते दिल्ली मेट्रो की छह लाइनों पर सेवाएं प्रभावित रहेंगी। दिल्ली पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि राजधानी में आने वाले प्रदर्शनकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बताया जा रहा है कि किसानों का बड़ा जत्था चोरी छिपे राजधानी में प्रवेश करने की फिराक में है। पंजाब से करीब 50 ट्रैक्टर ट्राली में 500 से 600 की संख्या में आए किसान दिल्ली में प्रवेश की तैयारी में थे। लेकिन आउटर नार्थ जिले की पुलिस एवं रिजर्व बल सिंघु बॉर्डर पर तैनात होने से वह दिल्ली में नहीं आ सके। 

2 - NIVAR CYCLONE : अब कमजोर पड़ रहा 'निवार', बारिश से जीवन अस्त-व्यस्त

बुधवार की आधी रात बाद तमिलनाडु और पुदुचेरी में चक्रवाती तूफान निवार समुद्र तट से टकराया। अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान निवार की वजह से तमिलनाडु-पुडुचेरी में भीषण बारिश हुई और जिंदगी अस्त-व्यस्त हो चुकी है। निवार के लैंडफॉल के दौरान भी तेज हवाओं के साथ भीषण बारिश हुई और अभी भी चेन्नई, महाबलीपुरम समेत कई शहरों में भारी बारिश जारी है। हालांकि, चक्रवाती तूफान निवार की रफ्तार अब कमजोर पड़ गई है। गुरुवार तड़के मौसम विभाग ने बताया कि चक्रवाती तूफान निवार कमजोर हो गया है और अब यह 'बहुत भीषण चक्रवाती तूफान' से 'भीषण चक्रवाती तूफान' में तब्दील हो गया है। इससे पहले बुधवार को तमिलनाडु के महाबलिपुरम में चक्रवात निवार की लैंडफॉल प्रक्रिया के दौरान तेज हवाएं देखने को मिलीं। इसके अलावा, पुडुचेरी में भी तेज़ हवाएं और भारी वर्षा हुई।

3 - चीन का 'युद्ध राग', जिनपिंग का सेना को आदेश- जंग जीतने की अपनी क्षमता बढ़ाओ

दोनों देशों में जारी तनातनी के बीच चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने सशस्त्र बलों को वास्तविक युद्ध की परिस्थितियों में प्रशिक्षण को मजबूत करने और युद्ध जीतने की अपनी क्षमता बढ़ाने का आदेश दिया। सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ने पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) को 2027 तक अमेरिकी सेना के बराबर क्षमता की बनाने की योजना बनाई है। शी जिनपिंग ने कहा कि सेना को युद्ध जीतने के स्तर वाले प्रशिक्षण पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए। हाल ही में उन्होंने इस बात पर जोर दिया था कि अगर पीएलए खुद को अन्य अग्रणी शक्तियों की बराबरी में पहुंचने के लिए एक आधुनिक युद्धक शक्ति में बदलना चाहती है तो उसे कृत्रिम बुद्धिमत्ता जैसी अत्याधुनिक तकनीकों को अपनाना चाहिए। बता दें कि भारत और चीन के बीच मई से ही तनाव जारी है और इसे कम करने के लिए करीब आठ दौर की वार्ता हो चुकी है। 

4 - कोविड वैक्सीन : टीके को लेकर अब किन-किन तैयारियों में जुटा है भारत

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बुधवार को कहा कि सरकार कोविड-19 टीके के उत्पादन और वितरण के लिए मजबूत पारिस्थितिकी तंत्र स्थापित कर रही है, ताकि मांग को पूरा किया जा सके। हर्षवर्धन ने विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के सहयोग से फिक्की द्वारा आयोजित डिजिटल 'वैश्विक आरएंडडी सम्मेलन 2020 ' को संबोधित करते हुए कहा, ' भारत में कोविड-19 टीके बनाने की सर्वाधिक क्षमता है।' उन्होंने कहा, 'हमने अब टीका उत्पादन एवं वितरण पारिस्थितिकी तंत्र को मजबूत करने की दिशा में कदम उठाने शुरू कर दिए हैं, ताकि आगामी दिनों में हमारी मांग को पूरा किया जा सके।' दिल्ली में कोरोना वायरस का प्रकोप इतना भयावह है कि पिछले छह दिनों में यह 678 मरीजों की जान ले चुका है।

5 - STRIKE : बैंक और बीएसएनएल कर्मी भी आज की हड़ताल में होंगे शामिल

26 नवंबर को आयोजित एक दिवसीय हड़ताल का असर राजधानी के बैंक, बीएसएनएल, आयकर कार्यालय सहित अन्य केंद्र सरकार के कार्यालयों के कामकाज पर पड़ेगा। केंद्रीय ट्रेड यूनियन के आह्वान पर यह हड़ताल हो रही है। विभिन्न संगठनों द्वारा कई बैठकों का आयोजन भी किया गया। अपनी-अपनी मांगों के साथ कर्मचारी गुरुवार को सड़कों पर उतरेंगे। सुबह नौ बजे से ही हड़ताली कर्मचारी अपनी मांगों के समर्थन में कार्यालयों के सामने धरना-प्रदर्शन और नारेबाजी करेंगे। हड़ताल में स्टेट बैंक और प्राइवेट बैंकों की शाखाओं को छोड़कर तमाम व्यावसायिक बैंक, ग्रामीण बैंक और कोऑपरेटिव बैंकों के ज्यादातर कर्मचारी शामिल हो रहे हैं। इसे सफल बनाने के लिए कोतवाली थाना स्थित इलाहाबाद बैंक यूनियन कार्यालय में बुधवार को बैठक हुई। 




facebook twitter instagram