+

उत्तराखंड : यति नरसिंहानंद को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा, धर्मसंसद में विवादित बयान का है मामला

हरिद्वार में हुए धर्म संसद कार्यक्रम में विवादित बयान देने के मामले में धर्मसंसद का आयोजन कराने वाले यति नरसिंहानंद को रविवार को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है
उत्तराखंड : यति नरसिंहानंद को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा, धर्मसंसद में विवादित बयान का है मामला
उत्तराखंड के हरिद्वार में हुए धर्म संसद कार्यक्रम में विवादित बयान देने के मामले में धर्मसंसद का आयोजन कराने वाले यति नरसिंहानंद को रविवार को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। हरिद्वार पुलिस थाने के थानाध्यक्ष रकिंदर सिंह कठैत ने बताया कि, नरसिंहानंद को रोशनाबाद जेल भेजा गया है। उन्होंने बताया कि आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 295 (क) और 509 के तहत मामला दर्ज किया गया है।
जितेंद्र नारायण त्यागी उर्फ वसीम रिजवी हो चुकें है गिरफ्तार 
पुलिस ने बताया कि, उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में डासना मंदिर के मुख्य पुजारी नरसिंहानंद को गंगा तट पर सर्वानंद घाट से शनिवार रात गिरफ्तार किया गया था जहां वह धर्म संसद मामले में एक अन्य आरोपी जितेंद्र नारायण त्यागी उर्फ वसीम रिजवी की गिरफ्तारी के विरोध में 'सत्याग्रह' कर रहे थे। हिंदू धर्म ग्रहण करने के बाद अपना नाम बदलकर त्यागी बने रिजवी भी जेल में हैं।
10 से ज्यादा लोगों के खिलाफ दर्ज हुई है प्राथमिकी 
नरसिंहानंद ने हरिद्वार में 17 से 19 दिसंबर तक धर्म संसद का आयोजन किया था जहां कुछ वक्ताओं ने मुसलमानों के खिलाफ कथित तौर पर घृणा फैलाने वाले भाषण दिए थे। धर्म संसद घृणा भाषण मामले में हरिद्वार में नरसिंहानंद और त्यागी सहित 10 से ज्यादा लोगों के खिलाफ दो प्राथमिकी दर्ज की गयी हैं। मामले की जांच विशेष जांच दल कर रहा है।

facebook twitter instagram