+

अगर आप भी ग्रीन टी का सेवन वजन कम करने के कर रहे हैं, तो यहां जाने लें इससे होने वाले नुकसान

अगर आप भी ग्रीन टी का सेवन वजन कम करने के कर रहे हैं, तो यहां जाने लें इससे होने वाले नुकसान
अब सदियों से, लोग अपने शरीर को उन विषाक्त पदार्थों से छुटकारा पाने की कोशिश कर रहे हैं जो वे मानते हैं कि विषाक्त पदार्थ हैं। लेकिन आज, टॉक्सिन के अपने शरीर को साफ करने के इच्छुक लोगों के लिए डिटॉक्स टी पीना एक लोकप्रिय प्रथा बन गई है। कुछ हस्तियों ने इन चाय को "मास्टर क्लीन" आहार के रूप में पीने का भी उल्लेख किया है। 


लेकिन डिटॉक्स चाय पर्याप्त रूप से संदिग्ध हैं। जबकि कुछ डिटॉक्स टी में चाय की पत्तियों की तरह सामान्य चाय सामग्री हो सकती है, अन्य में विषाक्त या एलर्जी पैदा करने वाले पदार्थ हो सकते हैं, जिनमें ड्रग्स और दवाएं शामिल हैं।कुछ चाय में खतरनाक दवाएं और रसायन भी हो सकते हैं जो पैकेजिंग पर विज्ञापित नहीं होते हैं। किसी भी डिटॉक्स  उत्पाद का उपयोग करने का प्रयास करने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श करें।

ग्रीन टी


फैट बर्न करने में ग्रीन टीम में काफी मददगार होती है। कैटेचिन नाम का एक प्राकृतिक फेनॉल एंटीऑक्सिडेंट ग्रीन टी में होता है और फैट को बर्न करने में यह बहुत सहायक होता है। इसके अलावा ग्रीन टी पीने से शरीर में एनर्जी भी आती है। आप व्यायाम ज्यादा देर तक कर सकते हैं। साथ ही वजन भी कम होता है। 

अर्ल ग्रे चाय


अर्ल ग्रे टी को ब्लैक टी कहा जाता है। इसमें संतरे के छिलके होते हैं। डिटॉक्स चाय के मामले में यह एक बेहतरीन चाय है। कैफीन और एल-थीनिन होता है जो ऊर्जा के स्तर को बढ़ाता है। अर्ल ग्रे में विटामिन सी की मात्रा ज्यादा होती है जो प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाता है। 

ओलॉन्ग टी


ओलॉन्ग टी एक चाइनीज ट्रेडिशनल टी है। कमीनिया सिनेन्सिस नाम के पौधे से ओलॉन्ग टी को बनाया जाता है। इस पौधे से ब्लैक और ग्रीन टी भी बनती है। ग्रीन टी और ब्लैक टी के कॉम्बिनेशन से ओलॉन्ग टी बनती है। इस टी के सेवन से शरीर में वजन कम होता है साथ ही डायबीटीज और बीपी भी कंट्रोल में रहता है। 

डिटॉक्स चाय के स्वास्थ्य लाभ:


1. डिटॉक्स टी में फाइटोन्यूट्रिएंट्स होते हैं जो वजन कम करने में मददगार होते हैं। शरीर के मेटाबोलिज्म को डिटॉक्स टी बढ़ाती है साथ ही शरीर में फैट बर्न करने की क्षमता को भी बढ़ाता है। 

2. डिटॉक्स टी यकृत समारोह को सुव्यवस्थित करके और पाचन तंत्र क साफ करके एक स्वस्‍थ जिगर को भी बढ़ाता है। 

3. शरीर से विषाक्त पदार्थों को डिटॉक्स टी में एंटीऑक्सिडेंट बाहर निकालती है। यह आपके वजन को कम करने में मदद करती है। यह चाय शरीर के मेटाबोलिज्म को भी बढ़ाती है। 

डिटॉक्स चाय के साइड इफेक्ट्स:


1. डिटॉक्स चाय में लैक्सटिवेस की मात्रा ज्यादा पाई जाती है। इससे शरीर में सूजन, दस्त, मतली और ऐंठन की समस्या हो जाती है। 

2. दस्त से तरल पदार्थ की हानि होती है और आप डीहाइड्रेटीड हो सकते हैं। निर्जलीकरण आपके रक्त में इलेक्ट्रोलाइट्स के स्तर को कम कर सकता है जो मांसपेशियों की ऐंठन और एक असामान्य ह्दय ताल को गति प्रदान कर सकता है।

3. एक ही दिन में डिटॉक्स टी में बहुत अधिक कैफीन की मात्रा होती है। इससे नींद आने और सोने में दिक्कत हो सकती है। 
facebook twitter