+

पीएम केयर्स कोष के गठन के बाद शुरूआती पांच दिनों में मिला 3076 करोड़ रूपए का दान

ताजा जानकारी के मुताबिक़, वैश्विक महामारी कोविड-19 की चुनौतियों से निपटने के संसाधन जुटाने के लिये स्थापित पीएम केयर्स कोष को इसके गठन के पहले पांच दिनों में 3076 करोड़ रुपये की राशि प्राप्त हुई थी।
पीएम केयर्स कोष के गठन के बाद शुरूआती पांच दिनों में मिला 3076 करोड़ रूपए का दान
बीते दिनों लगातार विपक्ष के निशाने पर रहने के बाद पीएम केयर्स फंड के बारे कुछ जानकारी सरकार द्वारा साझा की गयी है। कांग्रेस और अन्य विपक्षी दल लगातार केंद्र सरकार से पूछते आ रहे है कि कोष की जानकारी जनता के सामने रखनी चाहिए ताकि पारदर्शिता लायी जा सके पर पीएमओ द्वारा कहा गया था कि पीएम केयर्स कोष को लेखा जोखा नहीं रखा गया है।  
ताजा जानकारी के मुताबिक़, वैश्विक महामारी कोविड-19 की चुनौतियों से निपटने के संसाधन जुटाने के लिये स्थापित पीएम केयर्स कोष को इसके गठन के पहले पांच दिनों में 3076 करोड़ रुपये की राशि प्राप्त हुई थी। कोरोना वायरस की चुनौतियों से निपटने के लिए यह कोष इस वर्ष की स 27 मार्च को 2.25 लाख रुपये की शुरुआती राशि से गठित किया गया था। समाप्त वित्त वर्ष से मात्र पांच दिन पहले गठित कोष की 2019..20 के आडिट लेखाजोखा के अनुसार इस कोष में लोगों ने स्वेच्छा से 31 मार्च 2020 तक 3,075.8 करोड़ रुपये का सहयोग दिया। 
पीएम केयर्स कोष की जानकारी इसकी वेबसाइट पर अपलोड की गई है। आडिट रिपोर्ट में हालांकि यह खुलासा नहीं किया गया है कि किस व्यक्ति ने कितनी राशि का योगदान दिया है। रिपोर्ट के अनुसार कोष में 31 मार्च तक 39.6 लाख रुपये का विदेशी चंदा भी मिला था। यही नहीं पहले पांच दिन में घरेलू दान से 35.3 लाख रुपये और विदेशी दान से 575 रुपये का ब्याज भी कोष को मिला। इस तरह विदेशी दान पर सेवा कर अदायगी के बाद पीएम केअर्स कोष में कुल 3,076.6 करोड़ रुपये प्राप्त हुए। 
कोष का आडिट एसएआरसी ऐंड एसोसिएट चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ने किया है और इस पर पीएमओ के चार अधिकारियों ने हस्ताक्षर भी किये हैं। यह अधिकारी हैं सचिव श्रीकर के परदेश, उप सचिव हार्दिक शाह, अवर सचिव प्रदीप कुमार श्रीवास्तव, विभागीय अधिकारी प्रवेश कुमार हैं।
facebook twitter