+

दिल्ली: घरों में क्वारंटीन हुए कोविड-19 के मरीजों में 37 प्रतिशत वृद्धि, कन्टेनमेंट जोन भी बढ़े

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोविड के मामलों में वृद्धि आने से पिछले एक सप्ताह में घरों में पृथक करने वालों की संख्या में 37 प्रतिशत से अधिक की बढ़ोत्तरी हुई है तथा निषिद्ध क्षेत्र भी लगातार बढ़ रहे हैं।
दिल्ली: घरों में क्वारंटीन हुए कोविड-19 के मरीजों में 37 प्रतिशत वृद्धि, कन्टेनमेंट जोन भी बढ़े
राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोविड के मामलों में वृद्धि आने से पिछले एक सप्ताह में घरों में पृथक करने वालों की संख्या में 37 प्रतिशत से अधिक की बढ़ोत्तरी हुई है तथा निषिद्ध क्षेत्र भी लगातार बढ़ रहे हैं। 
आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार संक्रमण दर 27 फरवरी की 3.36 प्रतिशत से बढ़कर पांच मार्च को 0.53 प्रतिशत हो गयी तथा निषिद्ध क्षेत्र भी 27 फरवरी के 545 से बढ़कर पांच मार्च को 591 हो गये। दिल्ली में शुक्रवार को कोविड-19 के 312 नये मामले सामने आये थे जो पिछले डेढ़ महीने में सर्वाधिक रोजाना मामले हैं। शुक्रवार को तीन मरीजों की मौत हो जाने से अबतक यहां 10,918 लोग इस संक्रमण से अपनी जान गंवा चुके हैं। 
बृहस्पतिवार को यहां कोरोना वायरस के 261 नये मरीजों का पता चला था। दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के हिसाब से एक जनवरी को इस महामारी के 585 तथा चार जनवरी को 384 नये मामले सामने आये । यह दैनिक आंकड़ा 11 जनवरी को 306 तक घटा तथा फिर 12 जनवरी को यह 386 हो गया। संक्रमण के मामले फरवरी में घटने लगे थे किंतु 25 फरवरी को यह बढ़कर 256 पर पहुंच था जो उस महीने में सर्वाधिक था। 
सत्ताईस फरवरी को 243 नये मामले सामने आये थे और निषिद्ध क्षेत्र 545 थे। उस दिन 627 लोग घरों में ही पृथकवास में थे। 28 फरवरी को दैनिक मामले घटकर 197 रह गये और संक्रमण दर 0.34 प्रतिशत हो गयी लेकिन निषिद्ध क्षेत्र 556 हो गये तथा घरों में पृथकवास वाले मरीज बढ़कर 691 हो गये। एक मार्च को निषिद्ध क्षेत्र बढ़कर 596 और घरों में पृथकवास वाले मरीज बढ़कर 739 हो गये।
facebook twitter instagram