+

गजब! चम्मच से खोदी सुरंग, इजरायल की सबसे सुरक्षित जेल से फरार हुए कैदी

इजराइल की सबसे सुरक्षित मानी जाने जेल गिलबोआ में बंद छह फिलिस्तीनी कैदी चम्मच से सुरंग बनाकर फरार हो गए है।
गजब! चम्मच से खोदी सुरंग, इजरायल की सबसे सुरक्षित जेल से फरार हुए कैदी
फिल्मी दुनिया में आपने कैदियों को बड़े ही अजब-गजब तरीके से भागते हुए देखा होगा, लेकिन हम आपको कहें ही असल दुनिया में भी उसी तरह का कारनामा करते हुए इजरायल की सबसे सुरक्षित जेल से 6 कैदी भाग खड़े हुए हैं, तो बेशक ये हैरान करने वाला हो सकता है। इजरायल की गिलबोआ जेल में बंद 6 कैदी बिल्कुल फिल्मी स्टाइल से फरार हो गए हैं।
दरअसल, इजराइल की सबसे सुरक्षित मानी जाने जेल गिलबोआ में बंद छह फिलिस्तीनी कैदी चम्मच से सुरंग बनाकर फरार हो गए है। कैदियों ने अपने सेल के फर्श में एक गढ्ढा खोदा था, जिसे 'द सेफ' के नाम से जाना जाता है। किसानों ने लोगों को खेतों से भागते देखकर अधिकारियों को सतर्क किया।
अधिकारियों ने एक तलाशी अभियान शुरू किया है और उन लोगों को पास के वेस्ट बैंक या जॉर्डन तक पहुंचने से रोकने के लिए बाधाएं खड़ी की हैं, जो जेल से लगभग 14 किमी दूर है। भगोड़ों में वेस्ट बैंक शहर जेनिन में फिलिस्तीनी आतंकवादी समूह अल-अक्सा ब्रिगेड के पूर्व कमांडर जकारिया जुबैदी और साथ ही इस्लामिक जिहाद के पांच सदस्य शामिल हैं।
जुबैदी को 2019 में इजरायली बलों ने कई शूटिंग हमलों में शामिल होने के संदेह में गिरफ्तार किया था और वर्तमान में उस पर मुकदमा चल रहा है। इजरायली मीडिया के अनुसार, इस्लामिक जिहाद के चार सदस्य इजरायलियों को मारने वाले हमलों की योजना बनाने या उन्हें अंजाम देने के लिए दोषी ठहराए जाने के बाद आजीवन कारावास की सजा काट रहे थे, जबकि पांचवें को प्रशासनिक हिरासत आदेश के तहत दो साल के लिए बिना आरोप के रखा गया था। 
स्थानीय किसानों द्वारा पास के कृषि क्षेत्रों में 'संदिग्ध आंकड़ों' के बारे में अधिकारियों को सूचना देने के बाद जेल में अलार्म बजा। बाद में गिनती के बाद, जेल कर्मचारियों ने पाया कि छह कैदी लापता थे। माना जाता है कि भगोड़ों ने अपने बाथरूम के फर्श में एक गढ्ढा खोदकर उस कोठरी से बाहर निकल गए थे जिसे उन्होंने साझा किया था। 
स्थानीय मीडिया ने बताया कि उन्होंने जंग लगे चम्मच का इस्तेमाल किया था जिसे उन्होंने एक पोस्टर के पीछे छिपा दिया था। इजरायल के प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट ने सार्वजनिक सुरक्षा मंत्री ओमर बार-लेव से बात की और "इस बात पर जोर दिया कि यह एक गंभीर घटना है जिसके लिए भगोड़ों को खोजने के लिए सुरक्षा बलों की पूरी कोशिश की जरूरत है।"
facebook twitter instagram