+

आप विधायक आतिशी ने कालकाजी में 'सेफ्टी फस्र्ट सर्वे' किया शुरू

आम आदमी पार्टी विधायक आतिशी ने अपने विधानसभा क्षेत्र कालकाजी में शुक्रवार को 'सेफ्टी फस्र्ट सर्वे' शुरू किया। इसका मकसद स्थानीय नागरिकों के लिए सुरक्षा के कारगर उपायों पर विचार करके ठोस कदम उठाना है।
आप विधायक आतिशी ने कालकाजी में 'सेफ्टी फस्र्ट सर्वे' किया शुरू
आम आदमी पार्टी विधायक आतिशी ने अपने विधानसभा क्षेत्र कालकाजी में शुक्रवार को 'सेफ्टी फस्र्ट सर्वे' शुरू किया। इसका मकसद स्थानीय नागरिकों के लिए सुरक्षा के कारगर उपायों पर विचार करके ठोस कदम उठाना है। कालकाजी विधायक ने स्थानीय नागरिकों से पिछले दिनों इस क्षेत्र में असुरक्षा संबंधी मामलों की जानकारी मिलने के कारण यह सर्वे प्रारंभ किया है।
नागरिकों से मिली शिकायतों के बाद आतिशी ने पिछले दिनों कालकाजी मार्केट, देशबंधु कॉलोनी, सुखदेव विहार, कालकाजी ब्लॉक्स, साउथ पार्क अपार्टमेंट इत्यादि का दौरा करके स्थानीय निवासियों और व्यापारियों से चर्चा की। इस दौरान उन्हें चोरी, असामाजिक गतिविधियों, छेड़खानी और गुंडागर्दी जैसे बढ़ते मामलों की शिकायतें मिलीं।
इसके कारण आतिशी ने कालकाजी विधानसभा क्षेत्र के निवासियों की सुरक्षा को प्राथमिक मुद्दा बनाया है। 'सेफ्टी फस्र्ट फॉर कालकाजी' सर्वेक्षण के तहत विधानसभा क्षेत्र के नागरिकों से गूगल फॉर्म और प्रश्नावली के जरिए जानकारी हासिल की जाएगी।
इसके लिए कालकाजी को कई जोन में बांटकर यापारी संघों की मदद से सर्वेक्षण शुरू किया गया है। इस सुरक्षा सर्वेक्षण के माध्यम से नागरिकों से उन समस्याओं की जानकारी ली जा रही है, जिनका उन्हें सामना करना पड़ रहा है। सर्वे फॉर्म में बहुविकल्प और लघु-उत्तर प्रश्नावली दी गई है।
इसमें नागरिक किस वक्त और किन जगहों पर ज्यादा खतरा महसूस करते हैं, किन वजहों से किस प्रकार की असुरक्षा महसूस करते हैं, और किसी वारदात की शिकायत कहां करते हैं, इन विषयों पर जानकारी मांगी गई है। सर्वेक्षण में चार तरह के समाधान पर भी सुझाव मांगे गए हैं - सीसीटीवी कैमरे लगाना, डार्क स्पॉट को खत्म करना, आत्मरक्षा कार्यशालाएं और पुलिस-पेट्रोलिंग बढ़ाना। इससे अपराध के तरीकों और गैरकानूनी गतिविधियों संबंधी डेटा एकत्र करने में मदद मिलेगी और सुरक्षा के स्तर का पता चलेगा।
आतिशी ने कहा कि किसी भी कार्यक्रम की सफलता के लिए जनभागीदारी और संचार महत्वपूर्ण है। खासकर कोरोना के समय में अपनी सुरक्षा और भलाई के लिए चिंतित लोगों ने इस प्रयास में भरपूर समर्थन देकर सकारात्मक संदेश दिया है।
इससे सुरक्षा और कालकाजी की बेहतरी के लिए स्थानीय नागरिकों की भागीदारी सुनिश्चित करने में मदद मिल रही है। नागरिकों से जीवंत संपर्क बनाए रखने के लिए विधायक कार्यालय में हेल्पलाइन की भी व्यवस्था की जा रही है ताकि नागरिक अपनी शिकायत दर्ज करा सकें और उसकी स्थिति जांच सकें।
facebook twitter instagram