+

संजय सिंह के निलंबन के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे AAP कार्यकर्ता हिरासत में लिए गए

कृषि बिलों के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान राज्यसभा में अमर्यादित आचरण को लेकर आप के संजय सिंह सहित विपक्ष के आठ सदस्यों को मानसून सत्र की शेष अवधि के लिए निलंबित कर दिया गया है।
संजय सिंह के निलंबन के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे AAP कार्यकर्ता हिरासत में लिए गए
आम आदमी पार्टी से राज्यसभा सांसद संजय सिंह के निलंबन के खिलाफ विजय चौक के पास प्रदर्शन कर रहे पार्टी कार्यकर्ताओ को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। वहीं संजय सिंह ने भी सोमवार को नए दलों के सांसदों के साथ मिलकर निलंबन के खिलाफ संसद परिसर में बैठकर धरना दिया।
कृषि बिलों के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान राज्यसभा में अमर्यादित आचरण को लेकर आप के संजय सिंह सहित विपक्ष के आठ सदस्यों को मानसून सत्र की शेष अवधि के लिए निलंबित कर दिया गया है। निलंबित सदस्यों ने सदन से बाहर जाने से इनकार कर दिया। वे और कुछ अन्य सदस्य इस दौरान सदन में विरोध जताते रहे। हंगामे की वजह से सदन का कामकाज बार-बार बाधित हुआ। 
राज्यसभा में रविवार को कृषि सुधारों से संबंधित दो विधेयकों को पारित किए जाने की प्रक्रिया को लेकर विपक्ष दलों के सदस्यों ने जबरदस्त हंगामा किया। विधेयकों को प्रवर समिति में भेजे जाने के प्रस्ताव पर मतविभाजन की मांग को लेकर तृणमूल कांग्रेस और अन्य विपक्षी सदस्य सभापति आसन के बिल्कुल पास पहुंच गए। 
विधेयकों का विरोध करते हुए टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने सभापति आसन के पास पहुंचकर उप सभापति हरिवंश के सामने रूल बुक तक फाड़ दी। इतना ही नहीं उन्होंने उप सभापति के माइक को भी मोड़ दिया। इस दौरान कई और टीएमसी सांसद सभापति के आसान के करीब पहुंच गए।
सांसदों के इस बर्ताव पर एक्शन लेते हुए सभापति एम वेंकैया नायडू ने तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ ब्रायन और आप के संजय सिंह सहित विपक्ष के आठ सदस्यों को मानसून सत्र की शेष अवधि के लिए निलंबित कर दिया गया। निलंबित किए गए सदस्यों में कांगेस के राजीव सातव, सैयद नजीर हुसैन और रिपुन बोरा, तृणमूल के ब्रायन और डोला सेन, माकपा के केके रागेश और इलामारम करीम व आप के संजय सिंह शामिल हैं। 


facebook twitter