+

कांग्रेस मुख्यालय को 'पुलिस छावनी में बदलने' की कार्रवाई अघोषित आपातकाल : कांग्रेस ने केन्द्र पर निशाना साधा

राजस्‍थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, कांग्रेस प्रदेश अध्‍यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, पूर्व उपमुख्‍यमंत्री सच‍िन पायलट सहित अन्‍य नेताओं ने नयी दिल्‍ली स्थित कांग्रेस मुख्यालय व पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के निवास को 'पुलिस छावनी' में बदलने का आरोप लगाते हुए बुधवार को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा
कांग्रेस मुख्यालय को 'पुलिस छावनी में बदलने' की कार्रवाई अघोषित आपातकाल : कांग्रेस ने केन्द्र पर निशाना साधा
राजस्‍थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, कांग्रेस प्रदेश अध्‍यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, पूर्व उपमुख्‍यमंत्री सच‍िन पायलट सहित अन्‍य नेताओं ने नयी दिल्‍ली स्थित कांग्रेस मुख्यालय व पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के निवास को 'पुलिस छावनी' में बदलने का आरोप लगाते हुए बुधवार को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा और इस कार्रवाई को अघोषित आपातकाल बताया।
मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) नीत सरकार की इस तानाशाही सरकार के खिलाफ यदि कांग्रेसजनों के साथ आम जनता खड़ी नहीं हुई तो इसका खामियाजा पूरे देश को भुगतना पड़ेगा।
कांग्रेस ने बुधवार को दावा किया कि नरेंद्र मोदी सरकार के इशारे पर दिल्ली पुलिस ने उसके मुख्यालय, पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के आवासों को घेर रखा है तथा उसके नेताओं के साथ ‘आतंकवादियों जैसा सुलूक’ किया जा रहा है जो प्रतिशोध और धमकी की राजनीति है।
गहलोत ने इस मामले में ट्वीट करते हुए केंद्र सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने लिखा है, ‘‘कांग्रेस मुख्यालय एवं 10 जनपथ को पुलिस छावनी बनाने की आज की कार्रवाई अघोषित आपातकाल है। नेशनल हेराल्ड (यंग इंडिया) के दफ्तर को जबरन सील कर दिया गया। राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) नीत इस तानाशाही सरकार के खिलाफ यदि कांग्रेसजनों के साथ आम जनता खड़ी नहीं हुई तो इसका खामियाजा पूरे देश को भुगतना पड़ेगा।’’
वहीं कांग्रेस के प्रदेश अध्‍यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा, ‘‘केंद्र सरकार ने एजेंसियों का दुरुपयोग करके आज जो तानाशाहीपूर्ण रवैया अपनाया है उसे काला दिवस के रूप में पूरे देश की जनता हमेशा याद रखेगी।’’
डोटासरा ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘देश की आजादी में प्रमुख भूमिका निभाने वाली कांग्रेस और नेशनल हेराल्ड अखबार के अस्तित्व को मिटाने व कलंकित करने के लिये... देश के स्वर्णिम इतिहास को कलंकित करने के लिये इन्होंने (केंद्र सरकार ने) अपनी केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग शुरू कर दिया है। आज की कार्रवाई इनके इस बदनीयती पूर्वक प्रतिशोध की भावना के तहत कांग्रेस पार्टी और उसके नेताओं को हैरान और परेशान करने की पराकाष्ठा है। देश की जनता सब देख रही है।''
पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा, ‘‘केंद्र सरकार के कुशासन में तानाशाही चरम पर है। नेशनल हेराल्ड कार्यालय में छापेमारी कर यंग इंडियन का दफ्तर सील करना तथा सोनिया गांधी, राहुल गांधी के घर को पुलिस द्वारा घेरा जाना सत्य को दबाने का भाजपा का षड्यंत्र है।’’
उन्होंने ट्वीट किया है, ‘‘राष्ट्र निर्माण में कांग्रेस का जो योगदान रहा है, उसे भाजपा अपने इन कुचक्रों से कभी नहीं मिटा सकती। भाजपा की जन-विरोधी नीतियों, अहंकार और तानाशाही के खिलाफ हम मजबूती से आवाज उठाते रहेंगे।’’
वहीं राज्‍य के खाद्य मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने ट्वीट किया है, ‘‘सत्य की आवाज़ नहीं डरेगी पुलिसिया पहरों से। गांधी के अनुयायी लड़ के जीतेंगे इन अंधेरों से।’’
होम :
facebook twitter instagram