+

आडवाणी ने किया SC के फैसले का स्वागत, कहा- विकास के लिए एकजुट रहना जरूरी

आडवाणी ने किया SC के फैसले का स्वागत, कहा- विकास के लिए एकजुट रहना जरूरी
पूर्व गृहमंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने अयोध्या विवादित जमीन पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया साथ ही उन्होंने मस्जिद निर्माण के लिए अलग से 5 एकड़ जमीन देने के फैसले का भी स्वागत किया। 

आडवाणी ने बयान जारी कर कहा, ‘‘ अयोध्या के मुद्दे पर उच्चतम न्यायालय के पांच न्यायाधीशों की संविधान पीठ की ओर से दिए गए ऐतिहासिक फैसले का खुले दिल से स्वागत करने के लिए मैं देशवासियों के साथ खड़ा हूं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ मैं अपने रुख पर कायम हूं और खुद को धन्य महसूस कर रहा हूं कि उच्चतम न्यायालय ने एकमत से अयोध्या में राम जन्मभूमि पर भव्य राम मंदिर बनाने का रास्ता साफ किया।’’ 

इस पल को मनोकामना पूर्ण होने वाला बताते हुए 92वर्षीय आडवाणी ने कहा कि यह क्षण मेरी कामना पूर्ण होने का है, ईश्वर ने मुझे विशाल आंदोलन में योगदान देने का अवसर दिया जो भारत के स्वतंत्रता आंदोलन के बाद सबसे बड़ा आंदोलन था। आडवाणी ने आगे बात करते हुए कहा कि देश में समाज के विकास के लिए हम सभी को साथ रहने की आवश्यकता है। साथ ही उन्होंने राममंदिर आंदोलन का हिस्सा बनने के लिए भगवान का शुक्रिया भी किया। 

आडवाणी ने कहा कि लंबे समय से अयोध्या में चल रहे मंदिर-मस्जिद विवाद का पटाक्षेप हो गया और समय आ गया है कि विवाद एवं कटुता को पीछे छोड़कर सांप्रदायिक एकता और सहमति को गले लगाया जाए। 
facebook twitter