+

2014 में इंग्लैंड दौरे में खराब प्रदर्शन के बाद सचिन तेंदुलकर की मदद से वापसी की थी: विराट कोहली

इंग्लैंड के पूर्व बल्लेबाज केविन पीटरसन के साथ हाल ही में इंस्टाग्राम चैट के दौरान विराट ने कहा कि 2014 का इंग्लैंड दौरा उनके करियर का न्यूनतम स्तर रहा। विराट ने हालांकि कुछ महीनों बाद हुए ऑस्ट्रेलिया दौरे में शानदार प्रदर्शन करते हुए 86.50 के औसत से 692 रन बनाए जिसमें चार शतक शामिल थे।
2014 में इंग्लैंड दौरे में खराब प्रदर्शन के बाद सचिन तेंदुलकर की मदद से वापसी की थी: विराट कोहली
भारतीय कप्तान विराट कोहली ने क्रिकेट लीजेंड सचिन तेंदुलकर की सराहना करते हुए कहा है कि 2014 में इंग्लैंड दौरे में खराब प्रदर्शन करने के बाद सचिन की मदद से उन्होंने वापसी की थी। विराट ने 2014 में इंग्लैंड दौरे में काफी निराशाजनक प्रदर्शन किया था। उन्होंने उस दौरे की 10 पारियों में सिर्फ 134 रन बनाए थे। विराट ने हालांकि कहा कि यह सीरीज उनके करियर की मील का पत्थर साबित हुई थी जिसने उनके करियर को ही बदल डाला।

इंग्लैंड के पूर्व बल्लेबाज केविन पीटरसन के साथ हाल ही में इंस्टाग्राम चैट के दौरान विराट ने कहा कि 2014 का इंग्लैंड दौरा उनके करियर का न्यूनतम स्तर रहा। विराट ने हालांकि कुछ महीनों बाद हुए ऑस्ट्रेलिया दौरे में शानदार प्रदर्शन करते हुए 86.50 के औसत से 692 रन बनाए जिसमें चार शतक शामिल थे।

इंग्लैंड में अपने संघर्ष के बाद विराट ने सचिन की मदद मांगी थी खासतौर पर बल्लेबाजी करते समय कूल्हे की पोजीशन को लेकर। विराट ने मयंक अग्रवाल से बीसीसीआई टीवी पर चैट करते हुए कहा, ‘‘मेरे कूल्हे की पोजीशन इंग्लैंड दौरे में परेशानी का कारण बनी। खिलाड़ को अपने कूल्हे की स्थिति सही रखनी होती है जिससे संतुलन बना रहे है और आप ऑफ साइड तथा लेग साइड दोनों तरफ सामान अधिकार के साथ खेल सकें।’’ 

facebook twitter