स्वास्थ्य मंत्रालय में कोरोना केस आने के बाद, 6-7 जून को व्यापक अभियान चलाकर कार्यालय परिसर को संक्रमणमुक्त किया जाएगा

06:31 PM Jun 05, 2020 | Adesh Dubey
देशभर में कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। संक्रमण के मामले अब सरकारी दफ्तरों में भी तेजी के साथ बढ़ रहे हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय में पिछले सात दिनों में एक निदेशक सहित पांच कर्मचारियों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद व्यापक अभियान चलाकर छह-सात जून को कार्यालय परिसर को संक्रमणमुक्त किया जाएगा।

सूत्रों के मुताबिक दो अधिकारियों और एक डॉक्टर के अलावा, दो कर्मचारी इस घातक वायरस से संक्रमित हुए हैं। वे अक्सर निर्माण भवन आते रहते थे। सूत्रों के अनुसार, जो लोग इन कोविड-19 संक्रमित कर्मचारियों के संपर्क में आए हैं, उन्हें खुद को पृथक-वास में रहने की सलाह दी गई है। इसके साथ ही उनके संपर्क में आए लोगों का पता लगाया जा रहा है। ’’साथ ही कुछ और कर्मचारी भी पहले संक्रमित हुए थे।

इन घटनाक्रमों के मद्देनजर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने चार जून को एक नया कार्यालय आदेश जारी किया। इसमें कहा गया है कि कार्यालय परिसर (निर्माण भवन) को संक्रमणमुक्त करने के लिए छह और सात जून से व्यापक अभियान चलाने का निर्णय लिया गया है। इसमें कहा गया है कि इस वजह से स्वास्थ्य मंत्रालय का पूरा परिसर, आपातकालीन कोविड​​-19 टीम के लिए छोड़कर, छह और सात जून को बंद रहेगा। मंत्रालय ने तीन जून को भी एक अन्य कार्यालय आदेश जारी किया है जिसमें सभी कर्मचारियों को बीमारी के प्रसार को रोकने के लिए एहतियाती उपायों का सख्ती से पालन करने की सलाह दी गई है।