+

आगरा : अरुण वाल्मीकि के परिवार को 30 लाख की मदद देगी कांग्रेस, प्रियंका गांधी ने किया ऐलान

कांग्रेस महासचिव ने प्रियंका गांधी अरुण वाल्मीकि के परिवार से मुलाकात कर मामले में केस लड़ने में पूरी कानूनी मदद देने का आश्वासन दिया।
आगरा : अरुण वाल्मीकि के परिवार को 30 लाख की मदद देगी कांग्रेस, प्रियंका गांधी ने किया ऐलान
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सफाई कर्मचारी अरुण वाल्मीकि के परिजनों को तीस लाख रुपए की आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है। कांग्रेस महासचिव ने बुधवार रात अरुण के परिवार से मुलाकात कर मामले में केस लड़ने में पूरी कानूनी मदद देने का आश्वासन दिया। अरुण की पुलिस हिरासत में मौत को लेकर कांग्रेस उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार पर हमलावर है।
बुधवार की रात करीब 11:00 बजे के आस-पास कांग्रेस महासचिव आगरा पहुंचीं, जहां उन्होंने मृतक अरुण के परिजनों से मुलाकात की और उन्हें सांत्वना दी। इस दौरान प्रियंका ने कई ट्वीट कर बीजेपी के नेतृत्व वाली राज्य सरकार और पुलिस पर निशाना साधा।
रुण को इलेक्ट्रिक शॉक देकर मारा गया : प्रियंका 
अरुण के परिवार से मुलाकात के बाद प्रियंका गांधी ने कहा, मुझे बताया गया कि उनके परिवार से करीब वाल्मीकि समाज के 17 से 18 लोगों को पुलिस ने उठाया गया और उनकी बड़ी बेरहमी से पिटाई की गई। उन्होंने कहा, अरुण की बीवी ने मुझे बताया कि सिर्फ महिलाओं ने ही नहीं बल्कि पुरुषों ने भी उनकी पिटाई की।
प्रियंका गांधी ने कहा कि उनसे परिवार वालों ने कहा कि, अरुण को इलेक्ट्रिक शॉक देकर मारा गया। उनके पति को बड़ी बेरहमी से पीटा गया है, उनके हाथों को बांधकर उन्हें मारा गया है चार दिनों तक उनके परिवार के सदस्यों को थाने में रखा गया।
आगरा के जगदीशपुरा थाना के मालखाने से 25 लाख रुपए चुराने के आरोपी व्यक्ति की कथित रूप से पुलिस हिरासत में हुई मौत के मामले को लेकर सियासत में उबाल है। प्रशासन ने पीड़ित परिवार को 10 लाख रुपए मुआवजा और परिवार के एक व्यक्ति को सफाईकर्मी की नौकरी देने का वादा किया है। 
वहीं, वाल्मीकि समुदाय के लोग अरुण के मृत्यु के मामले की स्वतंत्र जांच की मांग कर रहे हैं। समुदाय के स्थानीय नेताओं ने कहा है कि इस मामले में जब तक निष्पक्ष जांच शुरू नहीं होती तब तक वे "महर्षि वाल्मीकि जयंती" नहीं मनाएंगे।।

facebook twitter instagram