वायु प्रदूषण : बारिश और अनुकूल वायु गति से दिल्ली के लोगों को मिली थोड़ी राहत

दिल्ली की वायु गुणवत्ता में बुधवार को सुधार आया और बारिश तथा हवा की गति अनुकूल रहने के चलते यह ‘मध्यम’ श्रेणी में दर्ज की गई। शहर की वायु गुणवत्ता शाम सात बजे 133 दर्ज की गई जो कि ‘मध्यम’ श्रेणी में आती है। 

दिल्ली के 37 वायु गुणवत्ता निगरानी स्टेशनों में वायु गुणवत्ता ‘मध्यम’ श्रेणी में दर्ज की गई जबकि लोधी गार्डन, पुसा, अरबिंदो मार्ग और बुराड़ी क्रॉसिंग पर गुणवत्ता स्तर ‘संतोषजनक’ तक पहुंचा जो कि लोगों के लिए राहत की बात है। 

एक्यूआई 0-50 के बीच ‘अच्छा’, 51-100 के बीच ‘संतोषजनक’ और 101-200 के बीच ‘मध्यम’ और 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301 से 400 के बीच ‘बहुत खराब’ और 401 से 500 के बीच ‘गंभीर’ श्रेणी में माना जाता है। 

बुधवार को राष्ट्रीय राजधानी और इसके आस-पास के क्षेत्रों में हल्की बारिश हुई और कुछ स्थानों पर ओलावृष्टि भी हुई। 

पिछले दो महीने में पहली बार हरियाणा और पंजाब में वायु गु‍णवत्ता ‘संतोषजनक’ या ‘अच्छी’ श्रेणी में दर्ज हुई है। 

विशेषज्ञों का कहना है कि इन दो राज्यों में पराली जलाना लगभग बंद हो गया है और यहां बारिश भी हुई जिससे इसका असर वायु गुणवत्ता पर पड़ा। 

भारतीय मौसमविज्ञान विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘ हरियाणा में मंगलवार और बुधवार को व्यापक तौर पर बारिश हुई। पंजाब में भी मध्यम बारिश हुई।’’ 

वहीं दिल्ली में हवा की गति भी ऐसी थी जिसने प्रदूषक तत्वों के तेजी से छितरा दिया। 

केंद्र की ओर से संचालित होने वाली वायु गुणवत्ता एजेंसी ‘सफर’ ने बताया है कि वायु गुणवत्ता बृहस्पतिवार को भी ‘मध्यम’ श्रेणी में रह सकती है और शुक्रवार को ‘खराब’ श्रेणी में पहुंचेगी। 

Tags : Fire,photos,नासा,NASA,residues of crops ,Delhi,city