+

कंगना के समर्थन में उतरा अखाड़ा परिषद, कहा- साधु-संत और पूरा देश उनके साथ है

अखिल भारतीय अखाड़ परिषद ने बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत को देश की बहादुर बेटी बताते हुए कहा कि उसकी इस लड़ाई में साधु-संत के साथ पूरा देश उनके साथ है।
कंगना के समर्थन में उतरा अखाड़ा परिषद, कहा- साधु-संत और पूरा देश उनके साथ है
अखिल भारतीय अखाड़ परिषद ने बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत को देश की बहादुर बेटी बताते हुए कहा कि उसकी इस लड़ाई में साधु-संत के साथ पूरा देश उनके साथ है। परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी ने गुरूवार को यहां कहा कि कंगना रनौत बहादुर और हिम्मत वाली बेटी हैं, जिसने बड़े निर्भीकता के साथ बॉलीवुड के माफियाओं और ड्रग माफियाओं के रैकेट का भंडाफोड़ किया है।

उन्होंने निडर होकर बॉलीवुड में एक विशेष समुदाय के वर्चस्व के खिलाफ खुलकर आवाज उठाई है। इससे न केवल बॉलीवुड के माफिया डर गए हैं, बल्कि महाराष्ट्र सरकार के भी कदम उखड़ रहे हैं। उन्होंने हिमाचल प्रदेश सरकार को कंगना को सुरक्षा देने के लिए धन्यवाद भी दिया है।

परिषद के अध्यक्ष ने कहा कि यही वजह है कि सच की आवाज को दबाने के लिए उद्धव ठाकरे सरकार ने कंगना रानावत के कार्यालय पर बुलडोजर चलवाया है और बदले की कार्रवाई की है। हालांकि महाराष्ट्र उच्च न्यायालय ने उन्हे बड़ी राहत देते हुए ध्वस्तीकरण की कार्रवाई पर रोक लगाई है।

सुशांत सिंह हत्या केस में जिस बहादुरी से उन्होंने ड्रग और बॉलीवुड माफियाओं का सामना किया है उससे लोगों में बौखलाहट है। उन्होंने कहा कंगना देश की बहादुर बेटी है, उसकी इस लड़ई में साधु-संत और पूरा देश उनके साथ है। कंगना रनौत और शिवसेना नेता संजय राउत के बीच जुबानी जंग चल रही है।

अखाड़ परिषद अध्यक्ष ने कहा है कि महाराष्ट्र में कानून व्यवस्था की हालत बेहद खराब है। पालघर में दो साधुओं की हुई हत्या के मामले में भी सरकार ने कोई कार्रवाई नहीं की है। अखाड़ परिषद ने पालघर मामले में भी सीबीआई जांच की मांग की है। महंत नरेन्द्र गिरी ने कहा कि कंगना रानावत की इस लड़ाई में साधु-संत और पूरा देश उनके साथ है।
facebook twitter