+

भारत-चीन सीमा विवाद पर बोले अखिलेश-कांग्रेस की गलतियों को न दोहराए BJP

अखिलेश यादव ने चीन के मुद्दे पर बोलते हुए कहा कि बीजेपी से कांग्रेस जैसी गलतियां नहीं दोहरानी चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने कहा, चीन के मुद्दे पर हमारा पक्ष एकदम साफ है।
भारत-चीन सीमा विवाद पर बोले अखिलेश-कांग्रेस की गलतियों को न दोहराए BJP
भारत-चीन सीमा विवाद पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और लोकसभा से सांसद अखिलेश यादव ने गुरुवार को अपना बयान दिया। उन्होंने चीन के मुद्दे पर बोलते हुए कहा कि बीजेपी से कांग्रेस जैसी गलतियां नहीं दोहरानी चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने कहा, चीन के मुद्दे पर हमारा पक्ष एकदम साफ है। 
रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को भारत-चीन सीमा विवाद को लेकर संसद के उच्च सदन में अपना बयान रखा। राजनाथ सिंह इस दौरान स्पष्ट किया कि भारत शांतिपूर्ण तरीके से सीमा मुद्दे के हल के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि सदन के माध्यम से मैं, हमारे 130 करोड़ देशवासियों को आश्वस्त करना चाहता हूं, कि हम देश का मस्तक झुकने नहीं देंगे। यह हमारा, हमारे राष्ट्र के प्रति दृढ संकल्प है।"

बेरोजगारी दिवस के अवसर पर राहुल ने केंद्र पर साधा निशाना, कहा- सरकार कब तक रोजगार देने से पीछे हटेगी

रक्षामंत्री ने कहा, "इस सदन से दिया गया, एकता व पूर्ण विश्वास का संदेश, पूरे देश और पूरे विश्व में गूंजेगा, और हमारे जवान, जो कि चीनी सेनाओं से आंख से आंख मिलाकर अडिग खड़े हैं, उनमें एक नए मनोबल, ऊर्जा व उत्साह का संचार होगा। यह सच है कि हम लद्दाख में एक चुनौती के दौर से गुजर रहे हैं, लेकिन साथ ही मुझे पूरा भरोसा है कि हमारा देश और हमारे वीर जवान इस चुनौती पर खरे उतरेंगे। 
रक्षा मंत्री ने कहा कि चीन, भारत की लगभग 38,000 वर्ग किलोमीटर भूमि पर अनधिकृत कब्जा लद्दाख में किए हुए है। इसके अलावा, 1963 में एक तथाकथित सीमा समझौते के तहत, पाकिस्तान ने पीओके की 5,180 वर्ग किमी भारतीय जमीन अवैध रूप से चीन को सौंप दी है। राजनाथ सिंह ने अप्रैल के बाद से पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ गतिरोध के हालात और सीमा पर शांति के लिए कूटनीतिक तथा सैन्य स्तर पर किए गए प्रयासों का भी उल्लेख किया। 
facebook twitter