+

ज्ञानवापी मुद्दे पर अखिलेश यादव की प्रतिक्रिया, BJP को लेकर किया ये बड़ा दावा!

अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी सरकार महंगाई से जनता का ध्यान हटाने और सरकारी उपक्रमों को बेचने के लिए ज्ञानवापी और ताजमहल जैसे मुद्दों को हवा दे रही है।
ज्ञानवापी मुद्दे पर अखिलेश यादव की प्रतिक्रिया, BJP को लेकर किया ये बड़ा दावा!
ज्ञानवापी मुद्दे पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपनी पहली प्रतिक्रिया देते हुए बीजेपी को लेकर बड़ा दावा किया। उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार महंगाई से जनता का ध्यान हटाने और सरकारी उपक्रमों को बेचने के लिए ज्ञानवापी और ताजमहल जैसे मुद्दों को हवा दे रही है।
अखिलेश यादव ने मंगलवार को आजमगढ़ में कहा कि बीजेपी ने अपने फायदे के लिए कई विपक्ष बना दिए हैं और आजकल सपा से मुसलमानों को दूर करने की कई दलों की साजिश भी चल रही है, जिसे जनता कामयाब नहीं होने देगी।  
उन्होंने कहा कि सरकार बुनियादी मसलों पर काम नहीं कर रही है। बीजेपी की साजिश है, देश में ‘वन नेशन वन उद्योगपति’ की नीति को कारगर बनाया जाए। महंगाई बेरोजगारी पर सरकार के पास कोई जवाब नहीं है। केवल राशन जैसी सहूलियत हटा ली जाये तो यहां के हालात भी श्रीलंका जैसे हो जाएंगे।

Ram Mandir : भगवान राम का मंदिर दिसंबर 2023 तक जनता के लिए खोल दिया जाएगा

सपा प्रमुख ने कहा कि बीजेपी बुनियादी सवालों से जनता का ध्यान भटका रही है। इस समय महंगाई सबसे बड़ मुद्दा है जो जनता के लिए परेशानी का सबब बनता जा रहा है। जब जब बीजेपी को मूल मुद्दों से जनता का ध्यान भटकाना होता है तब वह मंदिर मस्जिद जैसे मुद्दों को उछालती है। ज्ञानवापी और ताजमहल जैसे मामले भी उन्हीं में से एक है।
उन्होंने आश्चर्य जताया कि जिस प्रधानमंत्री ने ताजमहल से एक ट्रिलियन डॉलर आय अर्जित करने की बात कही थी, आज उसी ताजमहल के बारे में क्या-क्या कहा जा रहा है। प्रधानमंत्री के लखनऊ दौरे पर टिप्पणी करते हुए कहा कि जो 22 मंत्री हटाए गए हैं और जो 22 मंत्री बनाए गए हैं काम तो कुछ हो नहीं रहा है आपस में खींचतान जारी है उन्हीं को एक करने के लिए फोटो सेशन चलाया जा रहा है।


facebook twitter instagram