अलीगढ़ के इस कचौड़ी वाले की सालाना कमाई 60 लाख रूपए से ज्यादा, टैक्स के लिए मिला नोटिस

कमर्शल टैक्स जासूसों को एक कचौड़ी वाले की सलाना कमाई ने दंग कर दिया है। उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में मुकेश नाम के शख्स की सीमा सिनेमा हॉल के पास कचौड़ी की दुकान है और उसकी दुकान बहुत लोकप्रिय है। मुकेश अपनी दुकान सुबह खोलते हैं और कचौड़ी-समोसा पूरे दिन बेचते हैं। लोगों की भीड़ मुकेश की दुकान पर हमेशा ही रहती है।

 

इस कचौड़ी वाले का सालाना टर्नओवर देखकर अधिकारी भी रह गए दंग 

हाल ही में मुकेश की दुकान के टैक्स को लेकर किसी ने उसकी शिकायत कमर्शल टैक्स विभाग में करा दी। मुकेश कचौड़ी की दुकान के पास एक दूसरी दुकान पर टैक्स इंस्पेक्टरों ने अपनी टीम के साथ उसपर नजर रखनी शुरु कर दिया। टैक्स इंस्पेक्टर ने उस जांच में पाया कि मुकेश का 60 लाख से 1 करोड़ रूपए का सालाना टर्नओवर है। 


मुकेश को दुकान को जीएसटी के तहत रजिस्टर ना कराने पर और किसी भी तरह का टैक्स ना भरने पर नोटिस भेज दिया गया। इस मामले में मुकेश ने कहा, मुझे इसकी कोई जानकारी नहीं है। मैं अपनी दुकान पिछले 12 साल से चला रहा हूं और किसी ने मुझे नहीं बताया कि ये फॉर्मैलिटी करना जरूरी होता है। हम बहुत आम लोग हैं और कचौड़ी-समोसा बेचकर अपना घर चलाते हैं। 

राज्य खुफिया ब्यूरो के एक सदस्य इस मामले की जांस कर रहे हैं और उन्होंने बताया, मुकेश ने आसानी से अपनी आय को स्वीकार कर लिया और हमें कच्चे माल, तेल, एलपीजी सिलिंडर वगैरह पर अपने खर्च का पूरा विवरण दे दिया। 


जीएसटी रजिस्ट्रेशन उन लोगों को कराना जरुरी होता है जिनका सालाना टर्नओवर 40 लाख या फिर उससे ज्यादा का होता है। यह नियमों के तहत में आता है। भोजन पर टैक्स 5 फीसदी तक का लगता है। 


इस मामले में बात करते हुए एसआईबी अधिकारियों ने कहा कि जीएसटी रजिस्ट्रेशन कराना मुकेश के लिए जरूरी है और उसे अपने पूरे साल का टैक्‍स भी भरना होगा। इस मामले में एसआईबी डेप्यूटी कमिश्नर आरपीडी कौंतेय ने कहा कि मुकेश को एक नोटिस भी जारी कर दिया गया है। 
Download our app