अंबाती रायुडू ने लिया यू टर्न, भावनाओं में बहकर लिया था संन्यास, अब भी खेल सकता हूं सभी फॉर्मेट

भारतीय टीम के बल्लेबाज अंबाती रायुडू ने लगभग दो महीने पहले इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लिया था। रायुडू ने अब यू टर्न अपने ही फैसले पर ले लिया है। क्रिकेट के मैदान पर एक बार फिर वापस आने का मन अंबाती रायुडू ने बना लिया है।


हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन एचसीए को रायुडू ने पत्र लिखते हुए कहा है कि, मैं आपके संज्ञान में यह बात लाना चाहता हूं कि मैंने संन्यास का फैसला वापस ले लिया है और क्रिकेट के सभी फॉर्मेट में खेलना चाहता हूं। 


आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 के लिए जब रायुडू को भारतीय टीम में जगह नहीं मिली थी तो उन्होंने क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट से संन्यास लेना की घोषणा कर दी। विश्व कप में चयनकर्ताओं ने उनकी जगह ऑलराउंडर विजय शंकर को तरजीह देते हुए शामिल किया था। विजय शंकर और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड पर तंज कसते हुए रायुडू ने ट्वीट में लिखा था कि विश्व कप के लिए उन्होंने 3डी ग्लासेज का ऑर्डर दे दिया है। 

रायुडू ने लिखा, मैं चेन्नई सुपरकिंग्स, वीवीएस लक्ष्मण और नोएल डेविड को धन्यवाद देने के लिए यह अवसर लेना चाहता हूं। मेरे कठिन समय के दौरान उन्होंने मेरी काफी मदद की। वे मुझे यह अहसास दिलाने में अहम भूमिका निभा रहे हैं कि मेरे अंदर पर्याप्त क्रिकेट बाकी है। 


रिटायरमेंट के फैसले पर बात करते हुए 33 साल के रायुडू ने कहा कि उन्होंने जल्दबाजी में यह फैसला लिया था। यह फैसला भावनाओं में बहकर लिया गया था। अंबाती ने लिखा, मैं खुद को हैदराबाद की टीम के साथ एक शानदार सीजन के तौर पर देख रहा हूं। टीम को यह अहसास कराना चाहता हूं कि मैं पूरी क्षमता के साथ अाया हूं। मैं हैदराबाद टीम में शामिल होने के लिए 10 सितंबर से उपलब्‍ध रहूंगा। नोएड डेविड एचसीए की चयन समिति के अध्यक्ष हैं। 


डेविड ने इस मामले पर बात करते हुए कहा, रायुडू का हमेशा स्वागत है। रणजी टीम के अगले सीजन की तैयारी के लिए उनकी सेवाओं की जरूरत है। यह हमारे लिए बहुत अच्छी खबर है। मुझे अब भी विश्वास है कि उनके पास लगभग 5 साल की क्रिकेट बची है। पिछले साल हम उनके बिना रणजी ट्रॉफी में संघर्ष करते दिखे थे। 


वनडे क्रिकेट में अंबाती रायुडू ने 55 मैच खेलते हुए 1694 रन 47.05 की औसत से बनाए हैं। इस दौरान रायुडू ने तीन शतक और 10 अर्धशतक बनाए हैं। इसके साथ ही भारतीय टीम के लिए उन्होंने टी20 क्रिकेट में 6 मैच खेलते हुए महज 42 रन ही बनाए हैं। 
Tags : पटना,Patna,law,Ravi Shankar Prasad,Union Minister,Dalit,Punjab Kesari ,Ambati Rayudu,U-turn