अमित शाह ने केजरीवाल पर लगाया दिल्ली में दंगा भड़काने का आरोप

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने एक बार फिर दिल्ली की केजरीवाल सरकार को आड़े हाथ लिया। यहां गुरुवार को भाजपा के चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत करते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर दंगा भड़काने का आरोप लगाया और कहा कि नागरिकता कानून को लेकर दिल्ली सरकार भम्र फैला रही है। 

शाह ने कहा कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने यह कहकर कि वह शाहीनबाग में चल रहे आंदोलन के समर्थन में खड़े हैं, साबित कर दिया कि नागरिकता कानून को लेकर दिल्ली सरकार भम्र फैला रही है। 

दिल्ली के द्वारका के मटियाला में भाजपा उम्मीदवार के समर्थन में रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा, 'खुद उपमुख्यमंत्री गलत वीडियो ट्वीट कर दिल्ली में शांति भंग करने की कोशिश कर रहे हैं। क्या ऐसे लोगों के हाथ में आप फिर सत्ता फिर से देंगे?' 

इस बहाने अमित शाह ने कांग्रेस के नेता राहुल गांधी पर भी आरोप लगाया कि वो पाकिस्तान के पीएम इमरान खान की भाषा बोल रहे हैं। जेएनयू का जिक्र करते हुए अमित शाह ने कहा कि जो लोग देश के टुकड़े करने की बात कह रहे हैं, उन्हें क्या जेल नहीं भेजा जाना चाहिए। 

अमित शाह ने कहा, 'राम मंदिर हो या धारा 370 केजरीवाल और राहुल बाबा सबका विरोध करते हैं। राहुल जी ने कहा था कि कश्मीर में खून की नदियां बहेंगी, लेकिन एक बूंद भी नहीं गिरी।'

रैली में अमित शाह ने कहा कि चार महीनों के अंदर भव्य राम मंदिर बनेगा। 

दिल्ली में आयुष्मान योजना नहीं लागू किए जाने का केजरीवाल सरकार पर आरोप लगाते हुए अमित शाह ने कहा कि दिल्ली में केंद्र की 106 योजनाओं को लागू नहीं होने दिया गया। अगर आयुष्मान योजना दिल्ली में लागू होती तो दिल्ली की जनता को भी बढ़िया अस्पतालों में 5 लाख तक का फ्री इलाज होता। इस योजना का अब तक देशभर में 50 लाख लोगों को फायदा हुआ है। 

दिल्ली की दूषित पानी का हवाला देते हुए अमित शाह ने कहा कि आज दुनिया की सबसे दूषित पानी दिल्ली में है। मोदी सरकार ने वादा किया है कि हम हर धर तक मिनरल वाटर जैसा पानी पहुंचाएंगे। दिल्ली में अनिधिकृत कोलनियों का हवाला देते हुए अमित शाह ने कहा, 'हमने 1731 अनिधिकृत कोलनियो को अधिकृत कर दिया है और महज 5 हजार में उस मकान का मालिकाना हक भी दे रहे हैं।' 

दिल्ली में चुनाव प्रचार के लिए भाजपा ने बड़ी रैलियों के बजाय छोटे-छोटे कार्यक्रम के माध्यम से प्रचार करने की योजना बनाई है। सिर्फ गुरुवार को भाजपा के छोटे-बड़े कई नेताओं ने 150 से अधिक रैलियों को संबोधित किया, जिसमें अमित शाह की दो रैलियों और एक पदयात्रा के साथ-साथ भाजपा अध्यक्ष जे.पी. नड्डा की दो, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर की चार, धर्मेद्र प्रधान की तीन और गजेंद्र शेखावत की दो रैलियां शामिल थीं। 
Tags : Narendra Modi,कांग्रेस,Congress,नरेंद्र मोदी,राहुल गांधी,Rahul Gandhi,punjabkesri ,Arvind Kejriwal,Amit Shah,Delhi,government,election campaign,BJP