+

अमिताभ बच्चन ने अमर सिंह के निधन पर दी भावुक श्रद्धांजलि, सिर झुकार लिखा- 'निकट प्राण, संबंध निकट...'

सदी के महानायक अमिताभ बच्चन कोरोना वायरस के चपेट में आने के बाद पिछले 22 दिनों से नानावटी अस्पताल में इलाज करवा रहे हैं। भारत के मशहूर नेता और राज्यसभा सदस्य अमर सिंह का निधन
अमिताभ बच्चन ने अमर सिंह के निधन पर दी भावुक श्रद्धांजलि, सिर झुकार लिखा- 'निकट प्राण, संबंध निकट...'
सदी के महानायक अमिताभ बच्चन कोरोना वायरस के चपेट में आने के बाद पिछले 22 दिनों से नानावटी अस्पताल में इलाज करवा रहे हैं। भारत के मशहूर नेता और राज्यसभा सदस्य अमर सिंह का निधन 1 अगस्त शनिवार को सिंगापुर के अस्पताल में हो गया। अमर सिंह के निधन पर बिग बी ने भावुक श्रंद्धाजलि दी और अपने दोस्ती भरे रिश्ते को याद किया। 


64 वर्ष में किडनी की बीमारी के चलते निधन हो गया। किडनी ट्रांसप्लांट अमर सिंह का साल 2011 में हुआ था लेकिन उनकी तबियत खराब काफी लंबे समय से चल रही थी। सिंगापुर के एक निजी अस्पताल में उनका इलाज कई महीनों से चल रहा था। लगभग दो दशक से भी अधिक अमिताभ बच्चन और अमर सिंह की पुरानी थी। 


अमर सिंह को श्रद्धांजलि देते हुए अपने ब्लॉग पर बिग बी ने सिर झुकाए ब्लैक एंड व्हाइट तस्वीर साझा की और कैप्शन में लिखा, शोक में डूबे, सिर झुकाए, केवल प्रार्थनाएं बची हैं. करीबी जीवन, करीबी संबंध और आत्मा नहीं रही। खबरों के अनुसार अमिताभ बच्चन के प्रोडक्शन हाउस (एबीसीएल) का दिवालिया निकलने वाला था तभी उनकी मदद अमर सिंह ने की थी और उसके बाद से दोनों की दोस्ती शुरू हो गयी थी। 


अमर सिंह को ही श्रेय जया बच्चन के राजनीति में लाने के लिए दिया जाता है। साल 2004 में समाजवादी पार्टी की ओर से राज्यसभा सदस्य जया बच्चन को बनाया था। जब अमर सिंह को सपा से निकाल दिया तब अमिताभ और अमर सिंह की मित्रता में खटास आ गयी थी और पार्टी में जया बच्चन ने बने रहने का फैसला किया। 


बच्चन परिवार से अपने मतभेदों को भुलाते हुए अमर सिंह ने इस साल फरवरी में ट्वीट करते हुए लिखा था, आज मेरे पिता की पुण्यतिथि है और मुझे सीनियर बच्चन जी से इस बारे में संदेश मिला है। जीवन के इस पड़ाव पर जब मैं जिंदगी और मौत की लड़ाई लड़ रहा हूं, मैं अमित जी और उनके परिवार के लिए मेरी अत्यधिक प्रतिक्रियाओं पर खेद प्रकट करता हूं। ईश्वर उन सभी का भला करें। 
facebook twitter