‘सीएम की अराजकतावादी मानसिकता हुई सिद्ध’

नई दिल्ली : दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेन्द्र गुप्ता ने कहा है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया एवं विधायक सोमनाथ भारती के खिलाफ राउज एवेन्यू स्थित विशेष अदालत द्वारा आरोप तय किए जाने के साथ केजरीवाल की अराजकतावादी मानसिकता सिद्ध हो गई है। 

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री केजरीवाल ने संवैधानिक पद पर रहते हुए संवैधानिक व्यवस्थाओं के खिलाफ, संवैधानिक संस्थाओं को अपने राजनैतिक स्वार्थों के लिए मजाक उड़ाया है। भ्रष्टाचार मिटाने के नाम पर सरकार में आए मुख्यमंत्री केजरीवाल व उनके अन्य साथी स्वयं भ्रष्टाचार का हिस्सा बन गए हैं। गुप्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री केजरीवाल और उनके साथियों द्वारा निषेधाज्ञा का उल्लंघन करते हुए रेल भवन के समीप 20 जनवरी, 2014 को अपने साथियों के साथ धरना दिया था। 

प्रतिबंध के बावजूद उन्होंने लोक सेवकों के काम में बाधा पहुंचाने के लिए धरना दिया था। पुलिस अधिकारियों ने क्षेत्र में निषेधाज्ञा का हवाला देकर उन्हें आगे जाने से रोकने की कोशिश की तो आम आदमी पार्टी के इन नेताओं ने अपने समर्थकों को पुलिस कर्मचारियों के खिलाफ उकसाने व भड़काने का काम किया तथा निषेधाज्ञा का उल्लंघन करते हुए अपने साथियों के साथ रेल भवन पर धरने पर बैठ गए।
Tags :