+

महाराष्ट्र के गृह मंत्री का बड़ा बयान- बिहार के पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडे को लेकर सही साबित हुआ संदेह

देशमुख ने कहा ‘‘वह इस्तीफा दे चुके हैं...मैं केवल एक ही बात कहना चाहूंगा कि यह बिहार चुनाव को ध्यान में रखते हुए महाराष्ट्र और यहां की पुलिस को बदनाम करने की भाजपा की साजिश थी। ’’
महाराष्ट्र के गृह मंत्री का बड़ा बयान- बिहार के पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडे को लेकर सही साबित हुआ संदेह
महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा है कि उन्हें संदेह था कि बिहार के पूर्व पुलिस प्रमुख गुप्तेश्वर पांडे अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में भाजपा नेता की तरह बात कर रहे हैं और यह बात अब सही साबित हो गई है। राजपूत मौत मामले की सीबीआई जांच की मांग करने वाले पांडे महाराष्ट्र में गैर-भाजपा दलों के निशाने पर हैं।
हाल ही में उन्होंने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ली है और कयास लगाए जा रहे हैं कि वह अक्टूबर-नवंबर में बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव में किस्मत आजमा सकते हैं। पांडे के हालिया बयानों और भाजपा के साथ नजदीकी को लेकर महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ महा विकास अघाड़ी सरकार में साझेदार शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस उनपर निशाना साध रहे हैं।
देशमुख ने पत्रकारों से बात करते हुए भाजपा पर बिहार चुनाव के मद्देनजर साजिश के तहत महाराष्ट्र और इसकी पुलिस को बदनाम करने का आरोप भी लगाया। राकांपा नेता ने कहा ‘‘बीते डेढ़-दो महीने के दौरान आपने देखा कि वरिष्ठ पुलिस अधिकारी होने के बावजूद पांडे ऐसे बात कर रहे थे जैसे कि भाजपा के वरिष्ठ नेता हों और अब यह बात सही साबित हो गई है।’’
देशमुख ने कहा ‘‘वह इस्तीफा दे चुके हैं...मैं केवल एक ही बात कहना चाहूंगा कि यह बिहार चुनाव को ध्यान में रखते हुए महाराष्ट्र और यहां की पुलिस को बदनाम करने की भाजपा की साजिश थी। ’’ पांडे ने मंगलवार को स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति लेने के बाद अगले दिन कहा था कि अब वह ''आजाद'' हैं और चुनाव लड़ना कोई गलत काम नहीं है।

कर्नाटक ड्रग मामला : एक्ट्रेस रागिनी द्विवेदी और संजना गलरानी को 5 दिन की ईडी हिरासत में भेजा गया


facebook twitter