+

अनुराग ठाकुर का तेजस्वी पर तंज- जो अपने मां बाप का नहीं हुआ वह बिहार की जनता का क्या होगा?

भाजपा नेता ने तंज कसते हुए कहा कि जो युवा अपने माता-पिता को भुला दें, वे वोट लेने के बाद यहां के लोगों को कैसे याद रखेंगे।
अनुराग ठाकुर का तेजस्वी पर तंज- जो अपने मां बाप का नहीं हुआ वह बिहार की जनता का क्या होगा?
केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने मंगलवार को यहां विपक्षी दलों पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वे आईना साफ करते रहे लेकिन चेहरे के दाग नहीं जाते। एक फिल्म के डायलॉग का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि अपने बच्चों को वोट डालने जाते वक्त आज भी यहां के मां-पिताजी कहते हैं कि वोट सोच समझकर डालना कहीं फिर से 'वो' न आ जाए।
पटना में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता ठाकुर ने जहां केंद्र और राज्य सरकार की विकास योजनाओं का उल्लेख किया वहीं विपक्षियों पर जोरदार निशाना साधा। उन्होंने कहा कि इस चुनाव में एक ओर राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) है, जिसमें नेता, नीति और नियत साफ है वहीं दूसरी ओर महागठबंधन में शामिल हताश, निराश और बदहवास पार्टियां हैं, जो वर्ग विभेद और जातीय तनाव में बिहार को ढकेलना चाहते हैं।
उन्होंने राजद के नेता तेजस्वी यादव से सवालिया लहजे में पूछा कि आखिर उन्होंने भाकपा (माले) के लोगों, टुकड़े-टुकड़े गैंग के लोगों को गले लगाने की जरूरत क्यों पड़ी। क्या वे बिहार को फिर से रक्तरंजित करना चाहते हैं। ठाकुर ने कहा, ''राजद के नेता आज भले ही दो पूर्व मुख्यमंत्रियों की तस्वीर पोस्टरों से हटा दी हो, लेकिन उनकी सोच आज भी नहीं बदली।''
भाजपा नेता ने तंज कसते हुए कहा कि जो युवा अपने माता-पिता को भुला दें, वे वोट लेने के बाद यहां के लोगों को कैसे याद रखेंगे। उन्होंने बिहार के लोगों को सावधान करते हुए कहा कि डबल इंजन की सरकार ने बिहार में विकास को रफ्तार दी है। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में फिर से राजग की सरकार बनना तय है।

चिराग का नीतीश पर वार- अगर मैं जमूरा हूं तो मदारी कौन है, यह हमारे देश के PM का अपमान 


facebook twitter instagram