‘वोटर कार्ड के लिए आवेदन नॉमिनेशन तक’

नई दिल्ली : दिल्ली विधानसभा चुनाव का ऐलान कभी भी हो सकता है। नागरिक संशोधन कानून को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शन के बीच दिल्ली में शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव करवाना और मतदान प्रतिशत को बढ़ाना किसी चुनौती से कम नहीं है। 

ऐसे में चुनाव आयोग की क्या तैयारियां है इसे लेकर दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. रणबीर सिंह ने पंजाब केसरी के साथ विशेष बातचीत की। डॉ. सिंह ने बताया कि दिल्ली विधानसभा चुनाव नजदीक है, दिल्ली के जो भी नागरिक 18 वर्ष या इससे ऊपर हैं उन्हें वोटर लिस्ट में अपना नाम देखना चाहिए। जिनका नाम नहीं है वह नॉमिनेशन के अंतिम दिन तक आवेदन कर सकते हैं। 

उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश है कि दिल्ली में वोटिंग प्रतिशत को बढ़ाया जाए। इसके लिए विशेष जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। हर विधानसभा में दो गाड़ियां वीवीपैट व अन्य मशीन के साथ जा रही है। इस मशीन के माध्यम से लोगों को वोट करना सिखाया जाता है। साथ ही बताते हैं कि कैसे वीवीपैट में अपना वोट देखते हैं।

आज पार्टियों के साथ बैठक 
चुनाव को शांतिपूर्ण और पारदर्शी ढंग से करवाने के लिए सोमवार को दिल्ली के राजनीतिक पार्टियों के साथ बैठक होगी। बैठक के दौरान पार्टी प्रमुख व अन्य के साथ चुनाव को लेकर चर्चा की जाएगी। साथ ही उनकी सुझाव व समस्याओं को सुना जाएगा। वहीं सोमवार को आयोग फाइनल वोटर लिस्ट जारी करेगी।

पहले लेवल पर हुई ईवीएम जांच 
डॉ. सिंह ने कहा कि दिल्ली में होने वाले चुनाव से पहले कई स्तर पर ईवीएम की जांच होती है। इसी क्रम में पहले लेवल की जांच हो चुकी है। उन्होंने कहा कि चुनाव में उपयुक्त मेनपावर के लिए डेटाबेस जानकारी जिला प्रशासन को भेज दिया गया था जिसके आधार पर अपॉइंटमेंट हो गई है। उन्होंने कहा कि इनकी ट्रेनिंग चल रही है।

जल्द होगी पोलिंग पार्टी की अपॉइंटमेंट...डॉ. सिंह ने कहा कि पोलिंग पार्टी का अपॉइंटमेंट जल्द हो जाएगा। इनकी ट्रेनिंग भी जल्द होगी। उन्होंने कहा कि ट्रेनिंग के आठ डोमिन होते हैं। इसके अलावा एक हैंड जोन ऑन ईवीएम पर ट्रेनिंग होती है।

बढ़ाए जाएंगे ब्रांड एंबेसडर 
मतदाताओं को प्रेरित करने के लिए दिल्ली चुनाव आयोग ब्रांड एंबेसडर की संख्या बढ़ाएगी। डॉ. सिंह ने बताया कि इस बार रेडियो जॉकी नावेद को भी ब्रांड एंबेसडर बनाया जाएगा। फिलहाल रिषभ पंत, मनिका बत्रा, नीरज यादव और अंकुरा धामा ब्रांड एंबेसडर हैं।

संवेदनशील क्षेत्रों पर रहेगी नजर 
विरोध प्रदर्शन के कारण इस बार दिल्ली में संवेदनशील इलाकों की संख्या बढ़ी है। डॉ. सिंह ने कहा कि चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से करवाने के लिए पर्याप्त फोर्स की व्यवस्था की गई है। यदि जरूरत पड़ी तो फोर्स की और व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने कहा कि इस बार चुनाव से जुड़े अधिकारी एक दिन पहले ही अपना सामान लेकर पोलिंग स्टेशन पर पहुंच जाएंगे। वह रातभर पोलिंग स्टेशन पर ही रहेंगे और समय पर मतदान करवाने की व्यवस्था करेंगे।

चार एप होंगी मददगार 
डॉ. सिंह ने कहा कि चुनाव में लोगों के लिए चार एप मददगार साबित होंगे। इसमें वोटर हेल्पलाइन एप, पीडब्ल्यूडी एप, वोटर टर्नआउट एप, सी विजिल एप शामिल हैं। वोटर हेल्पलाइन एप की मदद से वोटर डिजिटल फोटो वोटर स्लिप हासिल कर सकते हैं। 

इसके अलावा फार्म 6 के साथ आवेदन, वोटिंग के दौरान क्यू आर कोड की मदद से मतदान केंद्र पर भीड़ सहित अन्य की जानकारी भी हासिल कर सकते हैं। वहीं वोटर टर्नआउट एप की मदद से मतदान के दौरान रियल टाइम वोटर टर्न आउट की जानकारी हासिल कर सकते हैं। 
Tags : Fire,photos,नासा,NASA,residues of crops ,protests,election,Delhi