अशोक गहलोत बोले- देश में अघोषित आपातकाल का माहौल

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को कहा कि देश में अघोषित आपातकाल का माहौल है और केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने प्रवर्तन निदेशालय, आयकर विभाग और सीबीआई के माध्यम से पूरे देश को डरा रखा है। 

अशोक गहलोत ने कांग्रेस के प्रदेश मुख्यालय में कहा, "जो चुनाव जीत जाते हैं उन्हें बड़ा दिल रखकर काम करना चाहिए। सबको साथ लेकर काम करना चाहिए। क्या मोदी जी की सरकार ऐसा कर रही है? सिर्फ ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) के माध्यम से, इनकम टैक्स विभाग, सीबीआई के माध्यम से पूरे देश को डरा रखा है... चाहे वह उद्योगपति हो, व्यापारी हो या नौकरशाह हो, कोई भी हो।"


गहलोत ने कहा, "पूरे हिंदुस्तान के लोग डर और भय में जी रहे हैं। देश में अघोषित आपातकाल का माहौल है। यह नयी पीढ़ी को समझना पड़ेगा।" उन्होंने कहा कि पूरा देश मंदी के दौर से गुजर रहा है और केंद्र सरकार को कुछ समझ में नहीं आ रहा। 

गहलोत ने कहा, "पूरे देश में भयंकर मंदी का दौर है। लोग आत्महत्या कर रहे हैं। पहले केवल किसान आत्महत्या करता था लेकिन अब व्यापारी, उद्योग जगत के लोग छोटे बड़े लोग भी आत्महत्या करने लगे हें। आटोमोबाइल सेक्टर से दस लाख लोग निकल चुके हैं। बिस्कुट बनाने वाली देश की एक नामी कंपनी ने जीएसटी लगने के कारण दस हजार लोगों को निकाल दिया है।" 

उन्होंने कहा, "केंद्र सरकार को कुछ समझ नहीं आ रहा है। उन्हें सोचना पड़ेगा कि कैसे अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाया जाए। रोजगार देने के बजाय रोजगार छीना जा रहा है जिसके कारण कानून व्यवस्था की स्थिति बिगड़ रही है।" गहलोत ने कहा, "सोशल मीडिया के जरिए नयी पीढ़ी को गुमराह किया जा रहा है। नयी पीढ़ी को समझना पड़ेगा कि सही कौन है गलत कौन है। बोलने में माहिर मोदी जी, ऐसे शब्द बोलते हैं कि लोग गुमराह हो जाते हैं। हम चाहते हैं कि देश की अर्थव्यवस्था मजबूत हो, देश मजबूत हो।"
Tags : भारतीय जनता पार्टी,Bharatiya Janata Party,गुजरात,Gujarat,उना कांड,विधायक प्रदीप परमार,Una Kand,MLA Pradeep Parmar ,Ashok Gehlot,country