+

असम : प्रतिबंधित इस्लामिक संगठन 'अंसार-उल-इस्लाम' से संबंधों को लेकर महिला गिरफ्तार

प्रतिबंधित बांग्लादेशी संगठन अंसार-उल-इस्लाम से कथित संबंधों को लेकर असम के धुबरी जिले में एक महिला को गिरफ्तार किया गया है। एक पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी।
असम : प्रतिबंधित इस्लामिक संगठन 'अंसार-उल-इस्लाम' से संबंधों को लेकर महिला गिरफ्तार
प्रतिबंधित बांग्लादेशी संगठन अंसार-उल-इस्लाम से कथित संबंधों को लेकर असम के धुबरी जिले में एक महिला को गिरफ्तार किया गया है। एक पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी।
दंपति का संगठन का पहले से हैं संबंध
बिलासीपाड़ा के उपमंडलीय पुलिस अधिकारी बिरंची बोरा ने संवाददाताओं को बताया कि जहूरा खातून को रविवार को नाएराल्गा पार्ट-टू गांव से गिरफ्तार किया गया था। उन्होंने बताया कि महिला का पति अबु तलहा भी संगठन से कथित संबंधों को लेकर वांछित है।
महिला के कब्जे से दो फोन जब्त
बोरा के मुताबिक, जहूरा खातून पर “अंसार-उल-इस्लाम से संबंध रखने वाले लोगों को बचाने की कोशिश” करने का आरोप है।उन्होंने कहा, “महिला के कब्जे से दो मोबाइल फोन जब्त किए गए हैं, जिसमें से एक जला हुआ था। हम जले हुए फोन से आंकड़े हासिल करने का प्रयास कर रहे हैं। अब तक हम उससे पूछताछ और दूसरे फोन के जरिये पर्याप्त साक्ष्य जुटा चुके हैं, जिससे यह तथ्य स्थापित होता है कि वह संगठन के सदस्यों के संपर्क में थी।” जहूरा खातून को रविवार को एक न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया गया, जिसने उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया।
क्या हैं इस्लामिक अंसार उल इस्लाम संगठन
अंसार उल इस्लाम की स्थापना 2004 में सूफी प्रभावित सुन्नी बरेलवी अफगान पीर सैफ-उर रहमान ने की थी।[1] वे उत्तर-पश्चिम पाकिस्तान में एक उग्रवादी इस्लामी समूह हैं और लश्कर-ए-इस्लाम के प्रतिद्वंद्वी हैं।जून 2008 में पाकिस्तानी सरकार ने इस समूह पर प्रतिबंध लगा दिया था।



facebook twitter instagram