+

Assembly elections : भारत में चुनाव प्रक्रिया हुई खर्चीली, भाजपा और कांग्रेस ने किया सबसे ज्यादा खर्च

भारत में चुनाव प्रक्रिया काफी ज्यादा खर्चीली होती जा रही है। चुनाव को पूरा करने में पहले के मुकाबले ज्यादा खर्च होने होने लगा है।
Assembly elections : भारत में चुनाव प्रक्रिया हुई खर्चीली, भाजपा और कांग्रेस ने किया सबसे ज्यादा खर्च
भारत में चुनाव प्रक्रिया काफी ज्यादा खर्चीली होती जा रही है। चुनाव को पूरा करने में पहले के मुकाबले ज्यादा खर्च होने लगा है। इसी साल 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव हुए है। चुनाव में देश की दो सबसे बड़ी पार्टियां भाजपा और कांग्रेस की और से  सबसे ज्यादा पैसा खर्च किया गया था। निर्वाचन आयोग के आंकड़ों से इस बात का पता चला है। सिर्फ अकेले दो बड़ी पार्टियों ने 5 राज्यों में 500 करोड़ से ज्यादा खर्च किए है। आम आदमी पार्टी ने इस साल 5 राज्यों में हुए चुनाव में चार राज्यों में अपने उम्मीदवार उतारे थे, हालांकि पार्टी को फायदा सिर्फ पंजाब से ही हुआ है।
इस साल में 5 राज्यों के चुनाव में सबसे ज्यादा खर्च भाजपा ने किया, और दूसरे स्थान पर कांग्रेस ने किया। इस साल फरवरी-मार्च में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड , पंजाब , मणिपुर और गोवा में चुनाव हुए थे। चुनाव के नियमों के मुताबिक सभी पार्टियों को चुनावी खर्ज का हिसाब- किताब रखना पड़ता है। सारा हिसाब रखने के बाद पूरी रिपोर्ट चुनाव आयोग को दी जाती है। इस रिपोर्ट को जमा करने की एक समय सीमा तय की जाती है। अगर विधानसभा चुनाव है तो 75 दिन और लोकसभा चुनाव है, तो 90 दिनों के अंदर रिपोर्ट देनी पड़ती है।
facebook twitter instagram