+

प्याज को लेकर भारत फैसले पर बांग्लादेश ने जताई चिंता, निर्यात फिर से शुरू करने का किया अनुरोध

बांग्लादेश के विदेश मंत्रालय ने इस संबंध में भारत सरकार को पत्र लिखकर प्याज के निर्यात को फिर से शुरू करने का अनुरोध किया है।
प्याज को लेकर भारत फैसले पर बांग्लादेश ने जताई चिंता, निर्यात फिर से शुरू करने का किया अनुरोध
प्याज के बढ़ते दामों को रोकने के लिए भारत सरकार ने इसके निर्यात पर पूरी तरह रोक लगा दी है। सरकार के इस फैसले पर बांग्लादेश ने गहरी चिंता व्यक्त की है। बांग्लादेश के विदेश मंत्रालय ने इस संबंध में भारत सरकार को पत्र लिखकर प्याज के निर्यात को फिर से शुरू करने का अनुरोध किया है। 
बांग्लादेश के विदेश मंत्रालय ने ढाका स्थित भारत के उच्चायोग के माध्यम से भेजे पत्र में कहा, ‘‘14 सितंबर 2020 को भारत सरकार द्वारा अचानक की गई घोषणा से इस संबंध में दो मित्र देशों के बीच 2019 और 2020 में हुई चर्चाओं और इस दौरान बनी आपसी समझ को कमजोर किया गया है।’’ 
बांग्लादेश की मीडिया को यह पत्र बुधवार की देर शाम उपलब्ध कराया गया। पत्र में प्याज के निर्यात को फिर से शुरू करने के लिए आवश्यक उपाय करने का अनुरोध किया गया है। पत्र में कहा गया है कि भारत के अचानक इस संबंध में घोषणा करने से बांग्लादेश के बाजार में आवश्यक खाद्य पदार्थों की आपूर्ति प्रभावित होगी। 
पत्र के मुताबिक ढाका में 15-16 जनवरी, 2020 को हुई दोनों देशों के वाणिज्य मंत्रालयों की एक सचिव-स्तरीय बैठक में बांग्लादेश ने भारत से आवश्यक खाद्य वस्तुओं के निर्यात प्रतिबंध नहीं लगाने का अनुरोध किया गया था। बांग्लादेश ने इस तरह के प्रतिबंध जरूरी होने पर भारत को समय से पहले उसे सूचित करने का अनुरोध भी किया है। 
इस मामले को बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने अक्टूबर 2019 में भारत की यात्रा के दौरान भी उठाया था। भारत सरकार ने सोमवार को घरेलू बाजार में प्याज की उपलब्धता बढ़ाने और कीमतों पर अंकुश लगाने के लिए प्याज की सभी किस्मों के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लगा दिया था। 
facebook twitter