+

माता-पिता द्वारा शादी के लिए मना करने के बाद फिरोजपुर से छिपते-छिपते पहुंचे थे बरनाला

फिरोजपुर से भागकर बरनाला पहुंचे प्रेमी जोड़े ने जहर निगल लिया, जिन्हें यहां के अस्पताल में स्थित आपातकाल कक्ष में दाखिल करवाया गया, लेकिन हालत की गंभीरता देखते सिविल अस्पताल में मौजूद डाक्टरों ने रैफर कर दिया।
माता-पिता द्वारा शादी के लिए मना करने के बाद फिरोजपुर से छिपते-छिपते पहुंचे थे बरनाला
लुधियाना- बरनाला : फिरोजपुर से भागकर बरनाला पहुंचे प्रेमी जोड़े ने जहर निगल लिया, जिन्हें यहां के अस्पताल में स्थित आपातकाल कक्ष में दाखिल करवाया गया, लेकिन हालत की गंभीरता देखते सिविल अस्पताल में मौजूद डाक्टरों ने रैफर कर दिया। बरनाला सिटी थाना की तरफ से मामले की जांच के लिए जिला फिरोजपुर की घल्लखुरद पुलिस चौकी को सूचना भेजी गई है,  जिसने जांच-पड़ताल शुरू कर दी है।

बरनाला सिविल अस्पताल में दाखिल जिला फिरोजपुर के गांव ठेठरखुर्द निवासी नौजवान निरवैर सिंह और ढींडसाकलां की 17 वर्षिय नाबालिग लडक़ी पलबल ने बताया कि वह एक दूसरे को पसंद करते हैं और विवाह करवाना चाहते हैं, परन्तु उनके माता-पिता रिश्ते के लिए रजामंद नहीं हैं। जिस कारण उन्हें घर से भागना पड़ा। आगे कोई रास्ता नजर नहीं आया तो बदनामी से डरते हुए उन्हें यह कदम उठाना पड़ा।

गुरूवार की दोपहर किसी राहगीर व्यक्ति ने शहर के भगत सिंह पार्क में उक्त जोड़े को तड़पते हुए देखा। जिनके मुँह में से झाग निकल रही थी। उक्त समाजसेवी ने तुरंत सिविल अस्पताल के एमरजैंसी नंबर पर सूचना दी। घटनास्थल पर पहुंची अस्पताल की एंबुलेंस ने प्रेमी जोड़े को सिविल अस्पताल पहुंचाया। जोड़े की हालत की गंभीरता देखते सिविल अस्पताल में मौजूद डाक्टरों ने रैफर कर दिया।

घर से फरार हुए प्रेमी जोड़े के खिलाफ जिला फिरोजपुर के थाना घल्लखुर्द में पहले ही मामला दर्ज था। जो कि नाबालिग लडक़ी के पिता कुलवंत सिंह की तरफ से धारा 363 और 366 आइपीसी के अंतर्गत करवाया गया था। यह जानकारी घल्लखुर्द थाना के प्रभारी इंस्पेक्टर किरपाल सिंह ने दी। उन्होंने कहा कि पड़ताल पूरी होने बाद में ही कार्यवाही की जायेगी।

- सुनीलराय कामरेड
facebook twitter