+

बेरूत ब्लास्ट के दौरान इस नर्स ने नवजात बच्चों को सीने से लगाकर पूरा किया अपना फर्ज, यूजर्स ने की सराहना

बीते मंगलवार को बेहद खौफनाक धमाका लेबनान की राजधानी बेरुत में हुआ जिसके बाद उस शहर की शकल ही पूरी तरह से बदल गयी। इस धमाके की कई तस्वीरें और वीडियोज जमकर वायरल हो रही हैं।
बेरूत ब्लास्ट के दौरान इस नर्स ने नवजात बच्चों को सीने से लगाकर पूरा किया अपना फर्ज, यूजर्स ने की सराहना
बीते मंगलवार को बेहद खौफनाक धमाका लेबनान की राजधानी बेरुत में हुआ जिसके बाद उस शहर की शकल ही पूरी तरह से बदल गयी। इस धमाके की कई तस्वीरें और वीडियोज जमकर वायरल हो रही हैं। लोगों का दर्द और ब्लास्ट का शोर साफ सुनाई इसमें दे रहा है। मलबे में तब्दील हो चुकी इमारतों के नीचे अभी भी  राहतकर्मी लोगों को तलाश रहे हैं। 


खबरों के अनुसार, लगभग 135 लोगों की मौत इस धमाके में हुई है वहीं दूसरी तरफ 5000 से अधिक लोग घायल हो चुके हैं। इसी बीच सोशल मीडिया पर एक नर्स की तस्वीर वायरल हो रही है जो इस धमाके के दौरान ली गयी थी। इस तस्वीर में दिख रही नर्स की लोग सराहना कर रहे हैं।

खुद से जुदा नहीं किया मासूमों को

 जर्नलिस्ट Bilal Marie Jawich ने फेसबुक पर इस तस्वीर को साझा किया है। इस पोस्ट में उन्होंने लिखा, 16 वर्षों से प्रेस के लिए फोटोग्राफी कर रहा हूं। बहुत से युद्ध कवर किए। लेकिन मैं यह कह सकता हूं कि आज मैंने जो अशरफिया इलाके में देखा, खासतौर पर Al Roum अस्पताल के सामने, वो कभी नहीं देखा था। एक नर्स तीन नवजात बच्चों को सीने से लगाए मदद के लिए फोन मिला रही थी। उसके आस-पास का माहौल काफी खौफनाक था। लाशें थीं, मलवा था और लोगों की चीख-पुकार।


यह तस्वीर हो रही वायरल 


यह है बेहद दर्दनाक 

सोशल मीडिया के कई प्लेटफॉर्म्स पर लोग इस तस्वीर को खूब शेयर कर रहे हैं। इस नर्स की तारीफ पूरी दुनिया के लोग कर रहे हैं और इसे हीरोइन, हीरो, परी के टाइटल से नवाज रहे हैं। कई लोग इस बाद से हैरान है कि उसने अपने आपको इस खौफजदा माहौल में कैसे शांत रहकर बच्चों की सुरक्षा के लिए हर प्रयास कर रही हैं।


Al Roum हॉस्पिटल के नाम से भी सेंट जॉर्ज हॉस्पिटल यूनिवर्सिटी मेडिकल सेंटर को जानते हैं। लेबनान की सबसे पुरानी यह मेडिकल  इंस्टीट्यूशन्स में आता है। यह गंभीर रूप से धमाके में बुरे तरीके से प्रभावित हुआ है। इस वजह से अस्पताल को काम में नहीं अभी लिया जा सकता। 

आधे से ज्यादा बेरूत अंधेरे में डूबा 

द फैसिलिटी डिजास्टर मैनेजमेंट के प्रवक्ता जॉर्ज साद ने कहा,  यहां बहुत से पीड़ित हैं, हमने चार नर्सों और मरीजों को खो दिया। इसके अलावा कई विजिटर्स घायल हुए और मारे गए हैं। हमें लगता है 200 घायल हुए। हालांकि लेबनान के इस वक्त हालात इतने बुरे हैं कि पार्किंग लॉट्स में घायलों का इलाज अस्पताल करने में मजबूर हो गए हैं। इसके अलावा कई अस्पताल इस धमाके में खाक हो चुके हैं। बिना बिजली के इस समय बेरूत का अधिकतर हिस्सा है। 


ये साल कठिन है हेल्थ केयर वर्कर्स के लिए

पोर्ट इलाके के एक वेयरहाउस में असुरक्षित रूप से 2750 टन अमोनियम नाइट्रेट रखा हुआ था जो इस धमाके की वजह बना। इस धमाके पर बेरूत के गवर्नर मारवन अबूद ने कहा कि अस्थायी रूप से बेघर लगभग तीन लाख लोग हु चुके हैं। 
Tags : ,nurse,Beirut Blast,newborns,capital,explosion,Beirut,blast,Lebanese,city
facebook twitter