लॉकडाउन के बीच, आज से पटरी पर दौड़ेंगी 200 नॉन एसी ट्रेनें, पहले दिन 1.45 लाख से ज्यादा यात्री करेंगे सफर

12:04 AM Jun 01, 2020 | Ujjwal Jain
देशभर में फैले कोरोना वायरस के चलते देश की आर्थिक गतिविधियां से लेकर तमाम चीजें पूरी तरह से बंद है। हालांकि, लॉकडाउन 5.0 में सरकार ने लॉकडाउन में कईं चीजों तक छूट दी है, जिसके बाद स्थिति धीरे-धीरे सामान्य होने के कयास लगाए जा रहे हैं। इस बीच, रविवार को रेलवे ने कहा कि  एक जून से 200 विशेष ट्रेनों का परिचालन शुरू कर दिया जायेगा और पहले दिन 1.45 लाख से अधिक यात्री यात्रा करेंगे।

रेलवे ने कहा कि लगभग 26 लाख यात्रियों ने एक जून से 30 जून तक विशेष ट्रेनों से यात्रा के लिए टिकट की बुकिंग कराई है। ये सेवाएं 12 मई से संचालित हो रही श्रमिक विशेष ट्रेनों और 30 वातानुकूलित ट्रेनों के अलावा हैं। रेलवे ने कहा कि यात्रियों को प्रस्थान से कम से कम 90 मिनट पहले स्टेशन पर पहुंचना होगा और जिन लोगों के पास कंफर्म या आरएसी टिकट होंगे, उन्हें ही स्टेशन के भीतर जाने और ट्रेनों में सवार होने की अनुमति दी जायेगी। 

केंद्रीय गृह मंत्रालय (एमएचए) के दिशा-निर्देशों के अनुसार यात्रियों को अनिवार्य रूप से जांच करानी होगी, केवल बिना लक्षण वाले यात्रियों को ही ट्रेनों में प्रवेश करने या सवार होने की अनुमति दी जायेगी। ज्ञात हो कि भारतीय रेलवे द्वारा श्रमिक और 15 जोड़ी स्पेशल ट्रेन चलाने के बाद रेलवे ने 19 मई को ऐलान किया था कि रेलवे 1 जून से 200 नॉन एसी ट्रेनों का संचालन करेगी। टाइम टेबल के मुताबिक एक जून से यह ट्रेनें प्रतिदिन चलेंगी। 

बता दें कि लॉकडाउन के कारण रेल सेवा पिछले करीब 2 महीनों से पूरी तरह से ठप थी। रेलवे ने पहले अलग-अलग राज्यों में फंसे प्रवासी श्रमिकों के लिए पहले श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाने का फैसला लिया, जिसमें  रेलवे ने 12 मई से 15 जोड़ी स्पेशल ट्रेन शुरू की। हालांकि, 15 जोड़ी स्पेशल ट्रेनें पूरी तरह से एसी हैं।  बता दें, यह ट्रेनें नई दिल्ली और देश के अलग-अलग 15 हिस्सों में चलाई जा रही हैं।