+

भीम आर्मी चीफ का दावा- मेरे काफिले पर चलाई गई गोलियां, पुलिस ने किया इनकार

चंद्रशेखर आजाद ने रविवार की देर रात ट्वीट किया, "विपक्षी दलों ने बुलंदशहर चुनाव के हमारे उम्मीदवार को डराया। आज की रैली के बाद मेरे काफिले पर कायराना तरीके से गोली चलाई गई।"
भीम आर्मी चीफ का दावा- मेरे काफिले पर चलाई गई गोलियां, पुलिस ने किया इनकार
बुलंदशहर जिले में एक रैली को संबोधित करके लौट रहे भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर के काफिले पर रविवार की देर रात कथित तौर पर हमला हुआ। आजाद ने कहा कि उनके काफिले पर गोलीबारी की गई।
चंद्रशेखर आजाद ने रविवार की देर रात ट्वीट किया, "विपक्षी दलों ने बुलंदशहर चुनाव के हमारे उम्मीदवार को डराया। आज की रैली के बाद मेरे काफिले पर कायराना तरीके से गोली चलाई गई। यह उनकी हताशा को दर्शाता है .. वे माहौल को जहरीला बनाना चाहते हैं लेकिन हम ऐसा नहीं होने देंगे।"
आजाद ने कहा कि उनके काफिला पर तब गोली चली जब उनकी आजाद समाज पार्टी के सदस्य आगामी उपचुनाव के लिए प्रचार कर रहे थे। यह स्पष्ट नहीं है कि भीम सेना प्रमुख खुद घटना के समय मौजूद थे या नहीं। यह घटना 3 नवंबर को बुलंदशहर उपचुनाव से पहले हुई है।
बुलंदशहर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) संतोष कुमार सिंह ने चंद्रशेखर के काफिले पर हमला होने की बात से इनकार किया है। उन्होंने कहा कि उन्हें आजाद समाज पार्टी और एआईएमआईएम के उम्मीदवारों से जुड़े कार्यकर्ताओं के बीच झड़प होने की जानकारी मिली है। अभी चंद्रशेखर के काफिले पर हमले की रिपोर्ट की पुष्टि होनी बाकी है।
उत्तर प्रदेश में 7 सीटों में हो रहे उपचुनाव में बुलंदशहर सीट भी शामिल है, इसी के साथ भीम आर्मी अपनी राजनीतिक शुरुआत करने जा रही है। बुलंदशहर से चंद्र शेखर ने हाजी यामीन को अपनी पार्टी का उम्मीदवार बनाया है।

कोरोना से फीका दशहरे का उल्लास,मोबाइल लैपटाप पर देखा रावण दहन

facebook twitter instagram