+

BJP ने बिजली सब्सिडी योजना में भ्रष्टाचार का लगाया आरोप

भाजपा ने मंगलवार को बिजली वितरण और बिजली सब्सिडी में गंभीर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया और दावा किया कि आप के दो पदाधिकारी और उसके एक सांसद के एक बेटे को दिल्ली में बिजली वितरण कंपनियों के बोर्ड में नियुक्त किया गया।
BJP ने बिजली सब्सिडी योजना में भ्रष्टाचार का लगाया आरोप
भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मंगलवार को बिजली वितरण और बिजली सब्सिडी में 'गंभीर भ्रष्टाचार' का आरोप लगाया और दावा किया कि आम आदमी पार्टी (आप) के दो पदाधिकारी और उसके एक सांसद के एक बेटे को दिल्ली में बिजली वितरण कंपनियों के बोर्ड में नियुक्त किया गया।
उपराज्यपाल वी के सक्सेना ने कथित अनियमितताओं की शिकायतें मिलने के बाद मुख्य सचिव को बिजली सब्सिडी योजना की जांच करने का निर्देश दिया। इसके बाद भाजपा ने ‘आप’ पर निशाना साधा।
एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए भाजपा के राज्यसभा सदस्य एवं राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ सुधांशु त्रिवेदी ने केजरीवाल सरकार पर विद्युत कंपनियों के 3229 करोड़ रुपये का बकाया माफ करने का आरोप लगाया।
त्रिवेदी ने पूछा, “ ऐसा क्यों किया गया? दिल्ली के नागरिकों को ईमानदारी और पारदर्शिता के साथ बिजली सब्सिडी क्यों नहीं दी गई? इसे प्रत्यक्ष लाभ के माध्यम से क्यों नहीं दिया गया जैसा केंद्र सरकार करती है और बिचौलियों को क्यों लाया गया?”
भाजपा के वरिष्ठ नेता ने आरोप लगाया कि बिजली वितरण कंपनियों को करीब 8000 करोड़ रुपये का लाभ पहुंचाया गया।
उन्होंने कहा, “ जब निजी कंपनियों को विलंब शुल्क के नाम पर 18 फीसदी वसूलने का अधिकार दिया गया तो वही कंपनियां दिल्ली सरकार को विलंब शुल्क के लिए सिर्फ 12 फीसदी ही क्यों दे रही थीं?”
त्रिवेदी ने आरोप लगाया, “ छह फीसदी रकम कहां गयी, इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई। छह फीसदी यानी लगभग 8000 करोड़ रुपये कहां गये, इसकी जानकारी किसी को नहीं मिली। ”
उन्होंन ने कहा कि विद्युत वितरण कंपनियों के बोर्ड में हमेशा से सरकारी अधिकारी शामिल होते थे।
त्रिवेदी ने कहा, “लेकिन यह पहली बार हो रहा है कि जब केजरीवाल सरकार ने अपने दो पदाधिकारियों और राज्यसभा सांसद के एक बेटे को बिजली वितरण कंपनी के बोर्ड में नियुक्त किया। आखिर सरकार ने ऐसा क्यों किया और इसके पीछे क्या कारण था?”
इन घटनाक्रमों पर प्रतिक्रिया देते हुए, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि गुजरात के लोगों ने ‘आप’ के मुफ्त बिजली के विचार को पसंद किया है, जिसने भाजपा को राष्ट्रीय राजधानी में बिजली सब्सिडी योजना में बाधा डालने के लिए प्रेरित किया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि वह 'किसी भी परिस्थिति में ऐसा नहीं होने देंगे'।
‘आप’ के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने सौरभ भारद्वाज ने कहा, “ भाजपा द्वारा नियुक्त दिल्ली के उपराज्यपाल ने गुजरात में अरविंद केजरीवाल के विजय रथ को रोकने के लिए भाजपा द्वारा रची गई एक और साजिश के तहत जांच के आदेश दिए हैं।”
प्रदेश भाजपा प्रमुख आदेश गुप्ता ने आरोप लगाया कि केजरीवाल सरकार की हर योजना भ्रष्टाचार से प्रेरित होती है।
उन्होंने आरोप लगाया, ''शराब घोटाले की तरह यहां भी उन्हें कमीशन मिला।”
भाजपा के आईटी विभाग के प्रभारी अमित मालवीय ने भी ‘आप’ के राष्ट्रीय संयोजक केजरीवाल पर निशाना साधा और कहा कि उन्होंने बिजली वितरण कंपनियों को 'अनुचित लाभ' दिया।
facebook twitter instagram