BJP विश्वास प्रस्ताव पर मत-विभाजन के लिए आतुर है, क्योंकि वह विधायकों को खरीद चुकी : सिद्धारमैया

कांग्रेस विधायक दल के नेता सिद्धारमैया ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी द्वारा लाए गए विश्वास प्रस्ताव पर मत-विभाजन के लिए बीजेपी आतुर है क्योंकि उसने बागी विधायकों को 'खरीद' लिया है लेकिन (विश्वास प्रस्ताव पर बहस की) यह प्रक्रिया सोमवार तक चल सकती है। 

राज्यपाल वजूभाई वाला द्वारा मुख्यमंत्री को विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए दी गई शुक्रवार डेढ़ बजे की समय सीमा के समापन के बाद सिद्धारमैया ने संवाददाताओं से कहा कि विश्वास प्रस्ताव पर मतविभाजन बहस पूरी हो जाने के बाद होता है। उन्होंने कहा कि बहस अबतक पूरी नहीं है क्योंकि कई विधायकों ने विश्वास प्रस्ताव पर बहस में चर्चा में शामिल होने के लिए अपने नाम दिए हैं। 

कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष बोले- विश्वास मत पर मतदान में देरी नहीं कर रहा हूं

बहस सोमवार तक चल सकती है जिसके बाद मत विभाजन होगा। उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘वह (बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष येदियुरप्पा) मुख्यमंत्री बनने के लिए हड़बड़ी में जान पड़ते हैं क्योंकि सौदा पहले ही हो चुका है और उन्होंने विधायकों को (मुम्बई) भेज दिया है।’’ 

राज्यपाल के निर्देश पर सदन में बीजेपी और कांग्रेस विधायको के बीच तीखी बहस के बीच व्यवधान के चलते विधानसभा तीन बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। जदएस-कांग्रेस गठबंधन के अगुवा कुमारस्वामी ने सत्तारूढ़ गठबंधन के 15 विधायकों के इस्तीफे के बीच गुरुवार को सदन में विश्वास प्रस्ताव पेश किया था। 
Tags : ,BJP,Siddaramaiah