+

सत्ता की हनक के चलते भाजपा नेता और उनके रिश्तेदारों को कानून का कोई डर नहीं : अखिलेश

सत्ता की हनक के चलते भाजपा नेता और उनके रिश्तेदारों को कानून का कोई डर नहीं : अखिलेश
अखिलेश यादव ने सत्तारूढ़ भाजपा पर अपराधियों के साथ सांठगांठ का आरोप लगाते हुए मंगलवार को कहा कि सत्ता की हनक के चलते भाजपा नेता और उनके रिश्तेदारों के दिल में कानून का कोई डर नहीं रह गया है। अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सत्तारूढ़ भाजपा पर अपराधियों के साथ सांठगांठ का आरोप लगाते हुए मंगलवार को कहा कि सत्ता की हनक के चलते भाजपा नेता और उनके रिश्तेदारों के दिल में कानून का कोई डर नहीं रह गया है।

अखिलेश ने यहां एक बयान में आरोप लगाया, “भाजपा शासन में उत्तर प्रदेश में सड़क से लेकर जेल तक अपराधियों द्वारा सत्ता संरक्षित संगठित सिंडीकेट संचालित किए जा रहे हैं।” उन्होंने कहा कि सिद्धार्थनगर जिला कारागार में कैदियों द्वारा कमीशन देकर जेल में रकम मंगवाने का भंडाफोड़ हुआ है।

अलीगढ़ में सत्ता के मद में चूर भाजपा नेता व पूर्व महापौर के पति ने चेकिंग के दौरान हेल्मेट न पहनने पर पुलिस कर्मियों के टोकने पर धमकी दी। सत्ता की हनक के चलते भाजपा नेता, रिश्तेदार अपनी मनमर्जी के मालिक बन बैठे हैं। उन्हें कानून का कतई डर नहीं है।

प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा का जंगलराज बेटियों के लिए काल साबित हो रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि नोएडा के आवासीय विद्यालय में नाबालिग छात्रा से बलात्कार के बाद शव को लटका दिया गया। परिवार को बिना बताए उसके शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

उन्होंने कहा कि प्रयागराज में दारोगा के दो बेटों ने दोस्तों के साथ मिलकर एक किशोरी से दुष्कर्म किया। कोरोना संकट काल में सरकार लोगों में सुरक्षा, रोजगार और भविष्य के प्रति सकारात्मक रवैया दिखाने में पूर्णतः विफल रही है।

गोरखपुर में रविवार को सहजनवां में एक युवक ने जहर खा लिया। बड़हलगंज क्षेत्र में महिला ने फांसी लगा ली। यहां एक हफ्ते के भीतर 11 लोगों ने जान गंवाई। बाराबंकी में एक परिवार में पति-पत्नी, दो मासूम बच्चों सहित चार लोग संदिग्ध स्थिति में मृत पाए गए।
facebook twitter