BJP ने आर्थिक पैकेज को लेकर सोनिया गांधी की आलोचना पर किया पलटवार, कहा- विपक्ष सिर्फ आलोचना करने में व्यस्त

10:24 PM May 22, 2020 | Purushottam Singh
विपक्षी दलों की बैठक में लॉकडाउन के तौर तरीके और आर्थिक पैकेज की सोनिया गांधी की आलोचना पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए भाजपा ने शुक्रवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ एक टीम के रूप में कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई को आगे बढ़ा रहे हैं लेकिन कांग्रेस पार्टी और उसकी अध्यक्ष दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से राष्ट्र के इस महत्वपूर्ण अभियान की आलोचना करने में व्यस्त है जो एक क्रूर मजाक है । भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने अपने बयान में कहा, ‘‘ कोरोना वायरस से निपटने में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ एक टीम के रूप में काम कर रहे हैं और कोरोना को पराजित करने में लगे हुए हैं । लेकिन कांग्रेस पार्टी इस मुद्दे पर बैठक करके ऐसी भाषा का इस्तेमाल कर रही है जो दुर्भाग्यपूर्ण है।’’ 

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए हुसैन ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने देश के विभिन्न वर्गो एवं क्षेत्रों की मजबूती के लिये 20 लाख करोड़ रूपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा की और जिसकी पूरे देश में प्रशंसा हो रही है लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी उसकी आलोचना करने में लगी हैं तथा जांच किट, संक्रमण की संख्या को लेकर भी सरकार पर आरोप लगा रही है। यह अपने आप में खेदजनक है । 

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि अगर प्रधानमंत्री ने समय रहते लॉकडाउन की घोषणा नहीं की होती और उसे पूरी ताकत से लागू नहीं किया होता, तब देश की स्थिति इटली, स्पेन जैसी हो सकती थी । क्या कांग्रेस पार्टी चाहती है कि देश में वैसे ही हालात उत्पन्न हो जाएं ? उन्होंने कहा कि कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में योगदान के लिये प्रधानमंत्री मोदी ने राज्यों के योगदान की भी प्रशंसा की जिसमें कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्री भी शामिल हैं लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष के पास भारत के हित में और कोरोना वायरस से निपटने में केंद्र सरकार के योगदान को लेकर बोलने के लिये दो शब्द भी नहीं हैं। 

शाहनवाज हुसैन ने कहा कि एक तरफ देश कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई लड़ रहा है, तो दूसरी तरफ कांग्रेस पार्टी और उसकी अध्यक्ष दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से राष्ट्र के इस महत्वपूर्ण अभियान की आलोचना करने में व्यस्त है जो एक क्रूर मजाक है । उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी अपनी बात रखते हुए आंकड़ों पर भी ध्यान नहीं रखती है । भारत की जीडीपी और अर्थव्यवस्था सक्षम है तथा कोरोना वायरस के खतरे से केंद्र सरकार अच्छे ढंग से निपट रही है। 

गौरतलब है कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने लॉकडाउन से बाहर आने के लिए सरकार के पास कोई रणनीति नहीं होने का दावा करते हुए शुक्रवार को कहा कि संकट के इस समय भी सारी शक्तियां प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) तक सीमित हैं। प्रमुख विपक्षी दलों की वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से हुई बैठक में उन्होंने यह भी कहा कि इस सरकार में संघवाद की भावना को भुला दिया गया है और विपक्ष की मांगों को अनसुना कर दिया गया। सोनिया गांधी ने मोदी सरकार के 20 लाख करोड़ के पैकेज को एक क्रूर मजाक कहा।

Related Stories: