+

जम्मू-कश्मीर में वंशवादी शासन बचाने के लिए फारूक और महबूबा ने मिलाया हाथ : भाजपा

चुग ने आरोप लगाते हुए कहा, "भ्रष्टाचार और भाई-भतीजावाद को वंशवादी नेताओं ने बढ़ावा दिया है, जिसने जम्मू और कश्मीर में विकास को रोका है।"
जम्मू-कश्मीर में वंशवादी शासन बचाने के लिए फारूक और महबूबा ने मिलाया हाथ : भाजपा
भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव अरुण चुग ने शनिवार को पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती से लद्दाख में चीन की घुसपैठ और आतंकवाद को बढ़ावा देने में पाकिस्तान की भागीदारी के बारे में बात करने के बजाय इस पर विचार करने को कहा है कि किस तरह से पाकिस्तान अधिकृत जम्मू-कश्मीर फिर से हासिल किया जाए।
यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए चुग ने कहा, "लद्दाख में चीन की घुसपैठ और आतंकवाद व अलगाववाद को बढ़ावा देने में पाकिस्तान की भागीदारी के बारे में बात करने के बजाय नेकां अध्यक्ष डॉ. फारूक अब्दुल्ला और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर को किस तरह से हासिल किया जाए इस पर बात करें।" उन्होंने कहा कि नेकां और पीडीपी कभी एक-दूसरे के कट्टर राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी थे और आज ये भाजपा के खिलाफ एकजुट हो गए हैं। 
चुग ने आरोप लगाते हुए कहा, "भ्रष्टाचार और भाई-भतीजावाद को वंशवादी नेताओं ने बढ़ावा दिया है, जिसने जम्मू और कश्मीर में विकास को रोका है। सत्ता में आने के बाद दिवंगत मुफ्ती मोहम्मद सईद ने भ्रष्टाचार के खिलाफ बात की थी, लेकिन उन्होंने भी कभी नेशनल कॉन्फ्रेंस में बड़ी मछलियों के खिलाफ काम नहीं किया।"
चुग ने आगे कहा, "यह एक संकेत है कि जम्मू और कश्मीर में वंशवादी राजनीति का समय अब खत्म हो गया है। मुझे यह देखकर खुशी हो रही है कि गांव से बाहर निकलकर आने वाले स्थानीय उम्मीदवारों को भी मतदान देने के लिए लोग अब बड़ी संख्या में आगे आ रहे हैं।"

भाजपा ने भारत में किसानों के प्रदर्शन पर कनाडा के रुख की आलोचना की

facebook twitter instagram