+

पश्चिम बंगाल विधानसभाध्यक्ष के चुनाव का बहिष्कार करेगी बीजेपी : दिलीप घोष

भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने शुक्रवार को कहा कि पार्टी के विधायक पश्चिम बंगाल विधानसभा में विधानसभाध्यक्ष के चुनाव का बहिष्कार करेंगे और पार्टी के नवनिर्वाचित विधायक तब तक सदन में नहीं जाएंगे।
पश्चिम बंगाल विधानसभाध्यक्ष के चुनाव का बहिष्कार करेगी बीजेपी : दिलीप घोष
भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने शुक्रवार को कहा कि पार्टी के विधायक पश्चिम बंगाल विधानसभा में विधानसभाध्यक्ष के चुनाव का बहिष्कार करेंगे और पार्टी के नवनिर्वाचित विधायक तब तक सदन में नहीं जाएंगे जब तक कि राज्य में चुनाव बाद हिंसा पर नियंत्रण नहीं हो जाता।
विधानसभाध्यक्ष का चुनाव शनिवार के लिए निर्धारित है। उन्होंने कहा कि भाजपा विधायक चुनाव के बाद की हिंसा के विरोध में विधानसभा नहीं जाएंगे। घोष ने राज्य विधानसभा में संवाददाताओं से कहा, ‘‘हम कल विधानसभा अध्यक्ष के चुनाव में शामिल नहीं होंगे। हम सदन के सत्रों में भी शामिल नहीं होंगे।’’
उन्होंने यह भी कहा कि ‘‘जब तक हमारे विधायकों को पूरी सुरक्षा नहीं मिल जाती, तब तक हम विधानसभा में नहीं आएंगे हम तभी आएंगे जब हमारे विधायक हमारे कार्यकर्ताओं के साथ चल पाएंगे।’’ मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बृहस्पतिवार को कहा था कि राज्य में चुनाव बाद होने वाली हिंसा में 16 व्यक्तियों की जान चली गई, इसमें तृणमूल कांग्रेस और भाजपा दोनों के लोग शामिल हैं जबकि आईएसएफ के भी एक व्यक्ति की भी मौत हुई है।
चुनाव परिणाम 2 मई को घोषित हुए थे। घोष ने कहा, ‘‘हम उम्मीद करते हैं कि सरकार हिंसा को रोकने के लिए पहल करेगी और हिंसा में प्रभावित लोगों को मुआवजा देगी।’’ बनर्जी ने बृहस्पतिवार को घोषणा की थी कि राज्य में आठ चरण के चुनाव के बाद हुई हिंसा में मारे गए लोगों में से प्रत्येक के परिवार के सदस्यों को सरकार द्वारा मुआवजे के रूप में 2-2 लाख रुपये दिए जाएंगे।
केंद्रीय गृह मंत्रालय की चार सदस्यीय तथ्यान्वेषी टीम राज्य में चुनाव बाद हिंसा के कारणों पर गौर करने के लिए राज्य का दौरा कर रही है। दल ने राज्य सचिवालय में पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव, गृह सचिव और पुलिस महानिदेशक से मुलाकात की और शुक्रवार को राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मुलाकात करके हिंसा पर रिपोर्ट मांगी। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने धनखड़ को राज्य में कानून और व्यवस्था की स्थिति पर एक रिपोर्ट देने के लिए कहा है, विशेष रूप से उस हिंसा पर जो चुनाव परिणाम की घोषणा के बाद हुई।
facebook twitter instagram