+

17 साल की नाबालिग से दुष्कर्म के प्रयास में 4 सगे भाईयों पर पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज

घटना 9 अक्टूबर को हुई थी, जब 23 से 28 साल की उम्र के लड़के, लड़की के घर में घुस गए और उनमें से एक ने उसके साथ दुष्कर्म करने का प्रयास किया, जबकि अन्य ने फोन पर इसका वीडियो बनाया।
17 साल की नाबालिग से दुष्कर्म के प्रयास में 4 सगे भाईयों पर पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज
उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में चार सगे भाइयों पर नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म के प्रयास के आरोप में केस दर्ज किया गया है। आरोपियों ने नाबालिग का वीडियो भी बनाने का प्रयास किया। केस अतिरिक्त जिला और सत्र न्यायाधीश के निर्देश पर पॉक्सो एक्ट के तहत दर्ज किया गया है। 
यह घटना 9 अक्टूबर को हुई थी, जब 23 से 28 साल की उम्र के लड़के, लड़की के घर में घुस गए और उनमें से एक ने उसके साथ दुष्कर्म करने का प्रयास किया, जबकि अन्य ने अपने मोबाइल फोन पर इसका वीडियो बनाया। हालांकि, लड़की के चिल्लाने के बाद आसपास के लोग इकट्ठा हो गए, जिससे सभी आरोपी भागने पर मजबूर हो गए। 
आरोपी ने धमकी दी कि अगर लड़की या उसके परिवार के सदस्य पुलिस से संपर्क करेंगे तो वो वीडियो को सोशल मीडिया पर अपलोड कर देंगे। लड़की के पिता ने कोतवाली पुलिस और पुलिस अधीक्षक के पास शिकायत दर्ज कराई। परिवार ने आरोप लगाया कि कोई कार्रवाई नहीं की गई, जिसके बाद पीड़िता के पिता कोर्ट चले गए। 

बुलंदशहर : दुष्कर्म के बाद आग के हवाले की गई 15 वर्षीय किशोरी ने इलाज़ के दौरान तोड़ा दम

लड़की के पिता ने कहा कि सबसे बड़ा भाई उनकी बेटी को घूरता है और अक्सर उसके साथ अश्लील हरकतें करता है। उसने कहा कि जब वह शिकायत के साथ आरोपी के परिवार के पास पहुंचे, तो आरोपी दानिश और उसके तीन भाइयों ने उसकी पिटाई की और धमकी दी कि अगर वह या उसकी बेटी पुलिस के पास जाएगी तो वो वीडियो वायरल कर देगा। 
स्टेशन हाउस ऑफिसर (एसएचओ) श्रीकांत द्विवेदी ने कहा कि मुख्य आरोपी और उसके भाइयों पर भारतीय दंड संहिता की धारा 354 (एक महिला के साथ आपराधिक व्यवहार करना), 323 (जानबूझकर चोट पहुंचाना), 452 (जबरन किसी के घर घुसना) और 506 (आपराधिक धमकी) के तहत केस दर्ज किया या है। उन पर पॉक्सो एक्ट भी लगाया गया है। उन्होंने कहा कि मामले की जांच की जा रही है और जल्द ही कार्रवाई की जाएगी। 
facebook twitter instagram